*मनावर~हमारी केन्द्र सरकार किसी भी प्रदेश के साथ पक्षपात नही करती सांसद छतरसिंह दरबार*~~                        

*भारतीय जनता पार्टी द्वारा आज खेत धरना आंदोलन का आयोजन किया गया* ~~                                        

*खेत धरना आंदोलन में भारी संख्या में कार्यकर्ता शामिल हुऐ*~~

निलेश जैन मनावर~~

आज 14 दिंसबर शनिवार को खलघाट मार्ग स्थित टोंकी फाटे पर भारतीय जनता पार्टी के मनावर सिंघाना के मंडल कार्यक्रताओं द्वारा मध्यप्रदेश कांग्रेस सरकार के द्वारा प्रदेश सभी जिलों में किसानों को अधिक मूल्य में यूरिया खाद तथा फसल के मुआवजा नही मिलने को लेकर खेत धरना आंदोलन का आयोजन दोपहर 12 बजे से तीन बजे तक रखा गया। आंदोलन के दौरान कहा  कि गई है कि प्रदेश की काग्रेस सरकार   को किसान हित मे निर्णय लेने मांग रखी गई। खेत धरना आंदोलन में सांसद धार महू छतरसिंह दरबार ने कहा कि प्रदेश की काग्रेस सरकार ने 2 लाख के कर्ज के झूठे वादे को लेकर प्रदेश में सरकार बना ली दरबार ने कहा कि हमारी केंद्र सरकार किसी भी प्रदेश की सरकार के साथ पक्षपात नहीं कर रही है। प्रदेश की कांग्रेस सरकार में जो यूरिया खाद सोसाइटी को जाना चाहिये वह बाजार में कैसे बिक रहा है। प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष रंजना बघेल ने कहा कि किसानों की समस्या में भाजपा साथ में खडी है तथा प्रदेश सरकार की हर योजना एवं यूरिया खाद, फसलों के मुआवजे दिलाने का प्रयास किया जायेगा। जिले के भाजपा नेता विश्वास पांडे ने कहा कि प्रदेश की कमलनाथ सरकार कपटनाथ सरकार हो गई है जो जल जमीन से जुड़े कार्यकर्ता इस सरकार की      किसान विरोधी नीति के खिलाफ है। भाजपा ग्रामीण मंडल अध्यक्ष शांतिलाल पाटीदार ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी किसानों के हित की पार्टी है प्रदेश की काग्रेस सरकार द्वारा प्रदेश किसानों का 2 लाख का कर्ज माफ करने का झुठा वादा किये गये साथ ही प्रदेश में प्रयाप्त यूरिया खाद होने के बाद भी किसानों को नही मिल रहा है। भाजपा के वरिष्ट नेता नारायण सोनी, मोहन भायल,महेन्द्रसिंह परिहार, रामेश्वर पाटीदार, कैलाश राठोर ने भी संभोधित किया। धरना आंदोलन में भाजपा नगर अध्यक्ष सचिन पांडे, जनपद अध्यक्ष योगेन्द्रसिंह मुवेल,डॉ शांतिलाल पाटीदार,राजेश पटेल,सुनील चोपड़िया, रवि मित्तल,अखिलेश पाटीदार, राजेश वास्केल,पार्षद सोनाली श्रीवासत्व सहित नगर के भाजपा पदाधिकारी भाजपा जनप्रतिनिधि, कार्यकर्ता किसान शामिल हुऐ।खेत आंदोलन के कार्यक्रम में  संचालन दिनेश सारण ने किया।


Post A Comment:

0 comments: