बड़वानी~केन्द्रीय विद्यालय में संगठन के स्थापना दिवस समारोह में रंगारंग कार्यक्रमो की हुई प्रस्तुति~~

बड़वानी / केंद्रीय विद्यालय बड़वानी में, केंद्रीय विद्यालय संगठन के स्थापना दिवस के अवसर पर प्रभारी प्राचार्य कुन्दन राठौर की अध्यक्षता एवं एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय के प्राचार्य और प्रभारी बी.ई.ओ. ए.आर.मुजाल्दे के मुख्य आतिथ्य में बौद्धिक एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किये गये ।
      इस अवसर पर ‘जेनेसिस’ कार्यक्रम के तहत जापान की यात्रा करने वाली विद्यालय की छात्रा नंदिनी मुकाती से सीधे इंटरव्यू का कार्यक्रम प्रस्तुत किया गया । जिसमें छात्रा अनुष्का जोशी ने यात्रा के अनुभवों पर आधारित प्रश्नावली के माध्यम से विद्यालय के विद्यार्थियों की उन सब जिज्ञासाओं को शांत किया जो विद्यार्थियों के मन में उठ रही थी ।  साक्षात्कार के माध्यम से नंदिनी ने बताया कि जापान की पढ़ी लिखी और उच्च शिक्षित युवा पीढ़ी तकनीकी के प्रयोग से बड़ी दिलचस्पी से खेती - बाड़ी करते है जबकि हमारे यहाँ यह पीढ़ी इस कार्य से विमुख हो रही है ।  नंदिनी ने यह दिलचस्प बात भी बताई कि एक सप्ताह के अपने प्रवास में हमारे देश की जो खास बात बड़ी शिद्दत से विदेशी जमीं पर महसूस कि वो ये कि जापान में सब अपने - अपने में अत्यंत व्यस्त है और आत्मीयता से मिल बैठ चर्चा करने का अवकाश किसी के पास नहीं है।  जबकि हमारे देश में गली-नुक्कड़ , चैपाल , ओटले, चाय की दूकान , पान की दूकान , चैराहे के बहाने जो गपशप होती है उसका अपना ही मजा और अंदाज होता है और जापानवासी जिंदगी के इन लम्हों से आज भी रुखसत है । नंदिनी के अनुसार जापान की सबसे अच्छी बात जो लगी वो ये कि जापान का यातायात अत्यंत अनुशासित है , शहर अत्यंत सुन्दर है क्योंकि देशभक्ति के भावना अत्यंत बलवती है, कोई अपनी देश की छवि किसी भी रूप में शेष विश्व के सामने बदरंग नहीं करना चाहता। सबसे बड़ी बात यह कि सारी प्राकृतिक आपदाओं का सामना पूरे साल सभी जापानवासी अत्यंत संगठित तरीके से कर लेते है क्योंकि सरकार, शिक्षा और जनता की एकमात्र भाषा अपनी भाषा जापानीज है न की विदेशी भाषा ।  नंदिनी ने दो बार विदेश प्रवास चेक गणराज्य एवं जापान जाने का पूरा श्रेय अपने विद्यालय एवं माता - पिता शांतिलाल व गायत्री मुकाती को दिया।
     कार्यक्रम के दौरान अतिथि श्री ए.आर.मुजाल्दे ने कक्षा बारहवीं में हिंदी कोर विषय में 90 से अधिक अंक प्राप्त करने वाले 16 विद्यार्थियों को प्रमाण-पत्र एवं पुस्तक भेंटकर पुरस्कृत किया ।
      कार्यक्रम का समापन चार सदनों सुभाष,टैगोर,अशोक और रमन द्वारा ‘विविधरंगी भारत की लोककला‘ थीम आधारित समूह नृत्य की प्रस्तुति के साथ हुआ।  जिसमें माध्यमिक विभाग एवं उच्च माध्यमिक विभाग की छात्राओं के द्वारा बहुरंगी लोक नृत्य कला की नयनाभिराम प्रस्तुति दी गई। 
समारोह का संचालन डी.आर.भामरे सी.सी.ए.प्रभारी द्वारा किया गया।  आभार प्रदर्शन सुश्री आभा जैन पी.जी.टी.सी.एस. द्वारा किया गया।


Post A Comment:

0 comments: