खिलेड़ी/ पंचमुखी~~ मकर संक्रांति के उपलक्ष्य में समीपस्थ गांव पंचमुखी की उमा महेश्वर गौशाला में गो पूजन कार्यक्रम रखा गया~~

जगदीश चौधरी खिलेडी 6261395702~~


कार्यक्रम में समूचे अंचल से अनेक लोग गोग्रास की ट्रैक्टर ट्राली भरकर पंचमुखी पहुंचे थे। आसपास  गांव  से  भूसा लेकर  पहुंचे  सभी गौ सेवक  मुख्य मार्ग पर  एकत्रित हुए  यहां से  ढोल ढमाकों  के साथ  वाहन रैली  के रूप में  गौ सेवक  व  भूसे  से भरी  ट्रालीयो  का जत्था  गौशाला परिसर  पहुंचा,  यहां  पंडित  राम चरण दास  बैरागी ने  समस्त गो सेवकों  का  तिलक लगाकर  स्वागत किया। परिसर में समिति द्वारा एक गाय को आकर्षक रूप से सजाया गया था सभी आगंतुक गौ सेवकों द्वारा सुसज्जित गाय की पूजा अर्चना कर गाय को गुड़ की प्रसादी खिलाई।

गौशाला समिति के अध्यक्ष मेहरबान सिंह झाला ने बताया की यहां लगभग 300 गाय है इसका संचालन आसपास के गो सेवको के सहयोग से चल रहा है अंचल के दानदाता समयानुसार गोग्रास व दान राशि प्रदान करते रहते हैं। बुधवार को अंचल के पिंजराया बिलोदा, बेरछा, सिलोदा खुर्द पंचमुखी,सनोली, आदि स्थानों से गोग्रास के सूखे भूसे की 19 ट्राली या व दो ट्राली हरी घास के साथ विभिन्न स्थानों से मटर चूरी, पशु आहार व खली की बोरियां गौशाला में गौ सेवकों के माध्यम से प्राप्त हुई ।

इसके साथ ही अंचल के दानदाताओं द्वारा नगद राशि के रूप में 65हजार 300 रुपए गौशाला संचालन हेतु सहयोग राशि प्राप्त हुई ।पलवाड़ा के मुन्ना लाल जैन द्वारा गाय हेतु 5 क्विंटल गुड प्रदान किया गया। गौ प्रेमियों द्वारा गौशाला परिसर में भ्रमण कर निरीक्षण किया एवं आवश्यक सहयोग करने की बात कहीं, बैठक में आगामी गेहूं की फसल कटाई के दौरान सुक्ला भूसे की व्यवस्था किए जाने पर भी चर्चा की गई। पंचमुखी गांव बीते वर्ष ग्रीष्मकाल में गोशाला परिसर में मालव संत पंडित कमल किशोर नागर जी की कथा किए जाने पर सुर्ख़ियों में आया था ।

बुधवार को गौ माता पूजन अवसर पर समिति से जुड़े गिरवर सिंह पटवारी, रायसिंह सनौली, शंभू सिंह पटेल, गौरे सिंह पलवाड़ा, रतन सिंह जी पिंजराया, नारायण सिंह पटेल भगवान सिंह पिंजराया, कंचन सिंह जलोद, ईश्वर सिंह पाईकुंडा, दरबार सिंह जलोदिया पार, दिलीप सिंह डोडिया बेगन्दा,कालू सिंह मंडलोई, रामदयाल, किशोर जायसवाल, गौशाला भूमि दानदाता जालम सिंह जाला मेहरबान सिंह झाला भगवान सिंह झाला व मोहनदास हुकुम सिंह आदि उपस्थित थे।


Post A Comment:

0 comments: