*मनावर ~मनावर में अखिल भारतीय क्षत्रिय युवा महासभा द्वारा ज्ञापन दिया गया*~~~
           
निलेश जैन मनावर ~~

अखिल भारतीय क्षत्रिय युवा महासभा द्वारा आज राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन तहसीदार को सौपा गया। उक्त ज्ञापन में जातिगत आरक्षण समाप्त करने तथा आगामी 10 वर्षों हेतु वृद्धि को रोकने एवं एट्रोसिटी एक्ट के दुरुपयोग को रोकने बाबद दिया गया। अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा ने ज्ञापन के माध्यम से कहा कि देश में जातिगत आरक्षण वर्तमान परिस्थितियों को दृष्टिगत रखते हुए पूर्णतः समाप्त किया जाना चाहिए । आरक्षण के कारण प्रतिभाओं को कुचलने का घृणित कार्य हो रहा हैं। आजादी के 73 वर्षो बाद अब यह अप्रासंगिक हो गया है । गरीबी जाति देखकर नहीं आती। देश को आजादी मिलने के बाद तीसरी चौथी पीढ़ी आ गई है परन्तु आरक्षण के दंश के कारण न केवल कई प्रतिभाएं अभावों की भेंट चढ़ गई वरन उनके परिवार आज भी इस कष्ट को भुगत रहे हैं । सबका विकास का नारा तभी बुलन्द होगा जब जातिगत आरक्षण समाप्त कर आर्थिक आधार पर देश के पिछड़े शोषित वर्ग को वह किसी भी जाति संप्रदाय का हो उस कमजोर को आरक्षण दिया जाना प्रारंभ करना चाहिए । ज्ञापन देने वालो में प्रदेश अध्यक्ष प्रहलादसिंह तंवर, महामंत्री नारायणसिंह चौहन, जिलाध्यक्ष करणसिह तोमर, करणी सेना के प्रियरंजनसिंह राठोर बालीपुर, संगागीय महामंत्री मुकेश मण्डलोई, राजेन्द्र सिंह चौहान ,बागसिंग पंवार, रवीन्द्रसिंग, योगेन्द्र सिंग, जगदीश सिंग, वीरेन्द्र सिंग आदी समाजजन मोजूद थे। फोटू ईमेल मनावर = अखिल भारतीय क्षत्रिय युवा महासभा ज्ञापन देते हुऐ।


Post A Comment:

0 comments: