झाबुआ~बहादूर सागर तालाब के पुलिये का काम चल रहा मंथर गति से-दुपहिया वाहनों एवं आने जाने वालों को झेलना पड रही 


परेशानी~~





गिट्टी को हटा कर रोड पर आना जाना शुरू करना चाहिये.~~





झाबुआ । नगरपालिका झाबुआ द्वारा बरसों पूराने बहादुर सागर एव रामशरणम के निकट बने पुलिये का निर्माण कार्य प्रारंभ किया गया है। नगरपालिका परिषद झाबुआ द्वारा निर्मित किये जा रहे इस पुल के निर्माण का शुभारंभ विधायक कांतिलाल भूरिया के कर कमलों से करवाया गया।




गिट्टी डाल दी गई-पूरा रोड ही ब्लाक..... 





जिस ठेकेदार द्वारा इस पुल के जिर्णोद्धार का कार्य किया जा रहा है वह मंथर गति से चलने के कारण रामशरणम से सर्कीट हाउस, गादिया कालोनी, डिग्री कालेज आदि क्षेत्र में आने जाने वाले लोगो को वर्तमान में परेशानिया झेलना पड रही है । पिछले तीन दिनों से राम शरणम के गेट के पास इतनी अधिक गिट्टी डाल दी गई है  कि पूरा रोड ही ब्लाक हो जाता है । इस मार्ग से प्रति दिन करीब एक हजार से अधिक बच्चें कालेज में आना जाना करते है ऐसे में उनकी दुपहिया गाडिया गिट्टी में फस जाने के चलते बडी मशक्कत करके उन्ह े निकलना पडता है। संयोग वश यदि वाहन गिट्टी में लहरा जावे तो सीधे बहादूर सागर में गिरने की प्रबल संभावना बनी रहती है। तीन पहिया आटो रिक्शा भी यहां से बडी मशक्कत करके निकल पाते है और गिट्टी में ही फस जाते है ऐसे मे आटो  मे बैठे लोगों को धक्का लगा कर वाहन को निकलना मजबुरी बन गया है। 




2 से तीन किलोमीटर का चक्कर ......





इस पुल के निर्माण का कार्य पिछले तीन दिनों से करीब करीब बंद पडा है और गिट्टी डम्प कर देने के कारण लोगों को जो परेशानिया उठाना पड रही है उसे देखने वाला कोई नही है। नगरपालिका द्वारा जिस ठेकेदार को ठेका दिया गया है उसने दो दिन से अधिक समय म ेंगिट्टी डालने के अलावा कुछ नही किया है और बेवजह रोड ब्लाक कर रखा है। जिससे होस्टल  कालेज में पढने वाले वाले बच्चों के अलावा गा्रमीण क्षेत्र से आने जाने वाले गा्रमीणों को भी बेहद परेशानिया झेलना पड रही है। इस रोड के ब्लाक हो जाने से लोगों को राजगढ नाका होकर गोपाल कालोनी रोड से करीब 2 से तीन किलोमीटर का चक्कर लगा कर गंतव्य तक पहूंचना पड रहा है।




गिट्टी को हटा कर रोड पर आना जाना शुरू करना चाहिये....





इस पुलिया के जिर्णोद्धार का कार्य जब तक गति से प्रारंभ नही होता है तब तक नगरपालिका को गिट्टी को हटा कर रोड पर आना जाना शुरू करना चाहिये। जिससे छोटे वाहन के अलावा पैदल आने जाने वालों को परेशानी नही हो। ज्ञातव्य है कि नगरपालिका पहली बार इस प्रकार के काम नही कर रही है,आम तौर पर नालियों का निर्माण हो,रोड निर्माण हो वहां गिट्टी आदि डलवा देती है और कई दिनों बाद काम शुरू होता है। इस पर जन सुविधा को देखते हुए नगरपालिका का मनन करना चाहिये ।





Post A Comment:

0 comments: