*बुरहानपुर~रेलवे टीटी निलेश कुमार राठौर की सूझबूझ से शबाना को मिली हिना*~~ 

बुरहानपुर (मेहलक़ा अंसारी)

रेलवे के टीटी अपनी सरकारी ड्यूटी के साथ-साथ अपने  सामाजिक सरोकारों के कारण समाज में लोकप्रियता हासिल कर रहे हैं । बुरहानपुर रेलवे स्टेशन के चीफ टी टी शकील अहमद  सिद्दीकी ने बताया कि आज 7 जनवरी 20 को काशी एक्सप्रेस ट्रेन नंबर 15018 खंडवा के प्लेटफार्म नंबर एक से रवाना हुई तो शबाना शेख नाम की एक महिला दौड़ते हुए ट्रेन में सवार हुई । प्लेटफार्म पर चीफ टी टी निलेश कुमार राठौर अपनी ड्यूटी अंजाम दे रहे थे । उन्होंने सीसीटीवी कैमरे की तरह इस घटना को भी अपनी आंखों में कैच कर लिया था । उस परेशान हाल महिला से उन्होंने वार्तालाप की तो उसने अपना नाम और टिकट बताते हुए बताया कि वह अपनी बेटी और सास के साथ यूपी से कल्याण जा रहे हैं और इंजन से सटे दूसरे डब्बे में उसके परिजन यात्रा कर रहे हैं । उसकी बेटी खिड़कियां स्टेशन पर पानी लेने के लिए थी उतरी थी और छूट गई । महिला यात्री शबाना की बात सुनकर टी टी मिस्टर निलेश कुमार राठौर ने तत्काल जीआरपी खिरकिया को फोन करके सूचित किया । इसी दौरान नगर सुरक्षा समिति के एक सदस्य के माध्यम से जीआरपी को सूचना मिली कि खिड़किया की डायल हंड्रेड पुलिस को हिना शेख नाम की लड़की मिली है, जो उनके पास सुरक्षित है और उसे हम अकेले नहीं रवाना कर सकते । आप यहां आकर लड़की को ले जाए। शबाना शेख को नेपानगर उतारकर भुसावल कटनी पैसेंजर के माध्यम से खिड़किया के लिए ना केवल रवाना किया गया बल्कि मानवता के नाते उसे समस्त सहयोग और  सुविधाएं उपलब्ध कराई गई थी, जो उसे आवश्यक प्रतीत होती हैं । टीटी निलेश कुमार राठौर की थोड़ी सूझबूझ से शबाना को अपनी बेटी हिना मिल गई । टीटी निलेश कुमार राठौर की सर्वत्र प्रशंसा की जा रही है । शकील अहमद सिद्दीकी ने बताया कि इसके पूर्व भी रेलवे के कई स्टाफ ने ऐसे कई मामलों में यात्रियों की सहायता करके अपनी सरकारी  ड्यूटी के साथ अपने सामाजिक सरोकारों और जिम्मेदारियों को भी  निभाया है। उन्होंने बताया कि हम समस्त  रेलवे स्टाफ समस्त यात्रियों की सुरक्षा के साथ अच्छी सहायता प्रदान करने के लिए वचनबद्ध हैं ।


Post A Comment:

0 comments: