बड़वानी~कलेक्टर श्री अमित तोमर ने पीएससी की कार्यशाला में मार्गदर्शन देते हुए कहा ~~

स्वयं पर विश्वास रखें, खुद के नोट्स तैयार करें, अच्छे दोस्त बनायें~~

करियर सेल का कार्य अविस्मरणीय है, इसे आगे बढ़ायें- श्री तोमर~~

बड़वानी /पीएससी और यूपीएससी परीक्षाओं में एप्रोच का अंतर है। इन परीक्षाओं की तैयारी के लिए ग्रुप स्टडी बहुत उपयोगी है। समय प्रबंधन पर ध्यान दें। अच्छे युवाओं से दोस्ती करें। सफलता-असफलता पर संगति का बहुत असर पड़ता है। अपने आप पर विश्वास रखें। अथेंटिक बुक्स और पत्रिकाएं पढ़ें तथा खुद के नोट्स तैयार करें। ये बातें बड़वानी जिले के कलेक्टर श्री अमित तोमर ने  शहीद भीमा नायक शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय, बड़वानी के स्वामी विवेकानंद कॅरियर मार्गदर्षन प्रकोष्ठ द्वारा आयोजित की जा रही एमपीपीएससी प्रारंभिक परीक्षा की कार्यशाला में अभ्यर्थियों को मार्गदर्शन देते हुए कहीं। इस अवसर पर प्राचार्य डाॅ. आर. एन. शुक्ल, प्रशासनिक अधिकारी डाॅ. प्रमोद पंडित तथा वरिष्ठ प्राध्यापक डाॅ. एन.एल. गुप्ता उपस्थित थे। संयोजन और संचालन कार्यकर्ता प्रीति गुलवानिया तथा कोमल सोनगड़े ने किया। कॅरियर काउंसलर डाॅ. मधुसूदन चैबे ने बताया कि कलेक्टर श्री तोमर सर के मार्गदर्शन से युवाओं में अत्यंत उत्साह है।
ये रहीं मार्गदर्शन की मुख्य बातें
ऽ जितना अधिक अभ्यास करेंगे उतना फायदेमंद होगा।
ऽ करंट अफेयर्स की विस्तार से तैयारी करें।
ऽ समाचार पत्र के सम्पादकीय का अध्ययन अवश्य करें।
ऽ समय समय पर रिवीजन आवश्यक है।
ऽ समय सारिणी बनाकर अध्ययन करें।
ऽ अधिक तनाव और डर से दूर रहें।
ऽ पाठ्यक्रम तथा पिछले प्रश्नपत्रों को ध्यान में रखें।
ऽ स्मृति ब़ढ़ाने के लिए एकाग्रता से पढ़ें। योग करें।
ऽ मुख्य परीखा में शब्द सीमा को ध्यान में रखें।
ऽ उत्तर के महत्वपूर्ण शब्दों को हाइलाइट करें।
ऽ इंटरव्यू में अपने बायोडाटा के हिसाब से तैयारी करें और स्वयं को ईमानदारी से प्रस्तुत करें।
ऽ एनसीईआरटी की पुस्तकें पढ़ें।
प्रश्नोत्तर सत्र में दिये सटीक जवाब
व्याख्यान के उपरांत प्रश्नोत्तर भी हुए। इसमें मगाराम जाट, अजय चांदोरे, चेतना पंचोले, पंकज अजमेरे सहित अनेक विद्यार्थियों ने कॅरियर से संबंधित प्रश्न किये। श्री तोमर ने उनके सटीक जवाब दिये।
कॅरियर सेल की प्रशंसा हुई
कलेक्टर श्री अमित तोमर ने कॅरियर सेल की अनुभूति पंजी में टिप्पणी लगाते हुए लिखा कि कॅरियर प्रकोष्ठ का अवलोकन करने का अवसर प्राप्त हुआ। सेल के द्वारा नियिमित रूप से गुणवत्ता के साथ किया जा  रहा है। छात्रों के सर्वांगीण विकास की दिशा में उत्तम कार्य किया गया है। इस प्रकोष्ठ से संबंधित समस्त महानुभव बधाई के पात्र हैं। इस अविस्मरणीय कार्य को आगे बढ़ाते रहें।
संचालन प्रीति गुलवानिया ने किया। आभार प्राचार्य डाॅ. आर. एन. शुक्ल ने व्यक्त किया। सहयोग रवीना मालवीया कोमल सोनगड़े, चेतना पंचोले, विधी लोनारे, आवेश खान, अजय चांदोरे, वर्षा मालवीया, जितेंद्र चैहान, नंदिनी मालवीया, राहुल भंडोले, ग्यानारायण शर्मा, अनिल पाटीदार ने किया।


Post A Comment:

0 comments: