*झाबुआ~सहकारिता विभाग की संजय एवं गणेश पर जांच तेज*~~

*13 साख संस्था एवं संजय , गणेश के बैंक खाते सीज*~~

झाबुआ से दशरथ सिंह कट्ठा ब्युरो....9685952025~~

झाबुआ - सहकारीता शासन के निर्देश पर संजय श्रीवास और गणेश प्रजापत की प्रभाव वाली 13 साख संस्थाओ और दो पर्सनल खाते जोकि मेघनगर शाखा की सहकारी मर्यादित बैंक में संचालित थे।उन्हें मध्य प्रदेश शासन के सहकारिता विभाग द्वारा  सीज कर दिया गया हैं। कई विभिन्न अनियमितताओं की जांच में प्रथम दृष्टया यह पाया गया कि दोनों व्यक्तियों द्वारा विधि व्यवस्था के विपरीत कई साख संस्था बनाकर उन संस्थाओ को खुद ही संचालित कर लाभ ले रहे थे ! लेकिन जब कुछ लोगो की शिकायत पर डिप्टी कमिश्नर द्वारा संजय और गणेश के घर, दुकान,आफीस पर छापा मार कार्यवाही की गई तो ..कई रबर मोहर तो कई किसानों के दस्तावेज जिसमे 13 संस्थाओं की सूची मिली तभी जाँच के दौरान उन संस्थाओ के अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष व संचालकों को जाँच के नोटिस भेजे और उन्हें जाँच केम्प में बुलाया गया।जहाँ जाँच केम्प में उन संचालक और अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष सदशयो को यह पता ही नही की वह उन संस्थाओं के किसी पद पर वे हैं ! लेकिन उक्त सभी संस्थाओं के संचालक व अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष ने जाँच केम्प में डिप्टी कमिश्नर को इस्तीफा दे दिया।

*13 साख संस्थाओं के खाते सीज एक संस्था का लोन अभी भी बकाया*

मेघनगर की 13 साख संस्थाओ के बैक खातों तो सीज कर दिया गया लेकिन उन सस्थाओ में किसी मे 3344 रुपये तो किसी संस्था में हजार दो हजार रुपये का बैलेंस हैं ।तो 2017 में विनायक बीज उत्पादक सहकारी संस्था मर्या. में पांच लाख का लोन लिया गया। था। जिसका लगभग लाखो रुपये का लोन आज भी बकाया हैं। आने वाले दिनों में इन सहकारिता माफियाओं पर शासन प्रशासन का शिकंजा और  भी कसेगा और भी कई बड़े घोटालों के साथ माफियाओं पर शक्ति मध्यप्रदेश शासन दिखाएगा है। बातों के पीछे एक सटीक बात निकल कर आ रही है कि बोया बीज बबूल का तो आम कहां से होय


Post A Comment:

0 comments: