*रिंगनोद~किसने कहा भगवान के भक्त गरीब होते है भगवान की भक्ति पा लेने के बाद उससे अमीर कौई नही बच्चो को टाटा बाय हाय हल्लो नही जय श्री कृष्ण राधे राधे राम नाम सिखाओ~पं विनोद जी शर्मा* ~~

भृक्तो कि संख्या मै हो रही उत्तरोत्तर वृद्धी भगवान श्री कृष्ण का हुआ जन्म नन्द घर आनन्द भयो जय कन्हैय्यालाल की के लगे जयकारे~~

अनुराग डोडिया रिंगनोद~~

तू मैरा होकर तो देख दुनीया को तेरा न बना दूँ तो कहनि सहित भक्ति का महत्व मार्मिक रुप से भजनो के साथ कथा के चौथे दिवस भक्त ध्रुव कि कथा सुनाते हुए  कथावाचक  पं. श्री विनोद जी शर्मा (भदवासा) रतलाम द्वारा बताया गया कि किस प्रकार भगवान ने अल्प समय मै ही बिन मांगे सुख सामर्थ्य अर्थ और मोक्ष तक दे दिया पूर्व जन्म के पुण्यो का फल अवश्य मिलता है यदि नही किए तो अब मनुष्य योनी मै कर लो अजामिल की कथा सुनाते हुए माता पिता कि महिमा को बताया आदेश वर्मा परिवार द्वारा मंगलम गार्डन गढी वाले हनुमान मन्दिर के पास रींगनोद मै  02/02/2020 से आयोजित संगीतमयी श्री मद् भागवत कथा का आयोजन दोपहर 11 से 3 बजे तक पं.विनोद जी शर्मा भदवासा रतलाम द्वारा किया जा रहा है प्रतिदिन धर्मावलंबियो श्रोताओ की संख्या बढती ही जा रही है जिसमे रिंगनोद राजगढ कंजरोटा गुमानपुरा रतनपुरा और आस पास के क्षैत्र से श्रद्धालु कथाश्रवण के लिए पहुँच रहै है जिसमे माता बहने युवा बुजुर्ग सभी सम्मिलित है आज कथा के 4 थे दिवस भगवान श्री क्रष्ण का जन्म हुआ श्री कृष्ण जन्म कथा के समय जैसे ही भगवान श्री कृष्ण का जन्म हुआ नन्द बाबा कि वैशभुषा मै कृष्ण रुपी बालक को सुसज्जित टोकरी मै सर पर विराजित कर ढोल के साथ जयकारे लगाते हुए कथा पांडाल मै लाया गया सभी उपस्थित श्रद्धालुओ ने दर्शन कर आलकी के पालकी जय कन्हैय्यालाल की नन्द घर आनन्द भयो जैसे जयकारे लगाकर एक दुसरे को हल्दी लगाकर मस्ति मै झुमते हुए नृत्य करते हुए पुष्प वर्षा कर भगवान का स्वागत वन्दन किया तत्पश्चात भगवान की आरती कर माखन मिश्री और अन्य प्रकार की महाप्रसादी का वितरण किया गया


Post A Comment:

0 comments: