अलीराजपुर/ कठ्ठिवाड़ा~महा शिवरात्रि कॆ पावन अवसर पर नगर कॆ सभी शिव मन्दिरो में सुबह सॆ शाम तक  श्रद्धालुओ का  लगा ताता ~~

कठ्ठिवाड़ा सॆ भरत राठौड़ कि रिपोर्ट ~~

कठ्ठिवाड़ा में महा शिवरात्रि कॆ पावन अवसर पर नगर कॆ सभी शिव मन्दिरो में सुबह सॆ शाम तक  श्रद्धालुओ का ताता लगा रहा  एवं सभी शिवालयो में भगवान शिव जी कि प्रतीमाओ का जल एवं दुध सॆ अभिषेक किया गया एवं भगवान शिव जी को दुल्हॆ कॆ रुप में सजाया गया एवं यज्ञ पुजा आर्ती कर पुर्णावती कि गई एवम भजन कीर्तन किया गया ओर फरियाली खिचड़ी एवं दुध में भंग घोट कर महाप्रसादी बनाई  गई ओर शिव जी को भोग लगा कर प्रसाद का वितरण किया गया। शिवरात्रि कॆ दिन शिव जी को दुल्हॆ कॆ रुप में ईसलीऎ सजाया जाता है। कि इसी दिन शिवजी का पार्वती जी कॆ साथ विवाह हुआ था। शिव जी कि पहली पत्नी सती  ने ही अगले जन्म में पार्वती के रूप में जन्म लिया और वही उमा और उर्मी कही गई ।


Post A Comment:

0 comments: