*झाबुआ ~31 मार्च तक सभी ट्रेनें रद्द… रेल मंत्रालय भारत सरकार का बड़ा फैसला…*~~

*देश में इस वायरस के खतरे को देखते हुए भारतीय रेलवे के अधिकारियों की बैठक हुई है।*~~

*प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अपिल...*~~

*दशरथ सिंह कट्ठा की ये रिपोर्ट...*~~

कोरोना वायरस के खतरे को देखतेेेे हुए रेल मंत्रालय ने बहुत ही बड़ा फैसला लिया है 31 मार्च तक देशभर की सभी ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है जानकारी के मुताबिक 24 मार्च की रात तक चलने वाली सभी ट्रेने थम जाएगी इसके साथ ही देशभर के सभी ट्रेनें 31 मार्च तक रद्द कर दी गई है। कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए केंद्र सरकार ने ये बहुत ही बड़ा फैसला लिया है।

*देश में इस वायरस के खतरे को देखते हुए भारतीय रेलवे के अधिकारियों की बैठक हुई है....*

कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए देश में पैर तेजी से पसार रहा है। देश में इस वायरस के खतरे को देखते हुए भारतीय रेलवे के अधिकारियों की बैठक हुई है। इसमें 31 मार्च तक पैसेंजर ट्रेनों को रद्द किया है। जिन ट्रेनों की यात्रा खत्म हो गई है, उन्हें तुरंत टर्मिनेट कर दिया जाएगा। खबर यह भी है कि देश के सभी बड़े स्टेशनों को खाली कराया जाएगा। फिलहाल 400 मालगाड़ियां चल रहा हैं और गंतव्य तक पहुंचने के बाद उन्हें भी बंद कर दिया जाएगा। रेलवे बोर्ड ने यह फैसला कोरोना वायरस के बढ़ते खतरे को देखकर लिया है। इसका नोटिफिकेशन आज जारी हो गया है। जानकारी के अनुसार, सभी बड़े स्टेशनों को खाली किया जाएगा। रेलवे बोर्ड रविवार को इस संबंध में अधिसूचना जारी कर रहा है। रेलवे बोर्ड 31 मार्च को समीक्षा करेगा कि इस व्यवस्था को आगे बढ़ाया जाए या नहीं।


*अब तक कोरोना वायरस से 324 मामले सामने आए हैं*

कोरोना वायरस को लेकर देश में मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। भारत में अब तक कोरोना वायरस से 324 मामले सामने आए हैं। आज 9 मामले बढ़े हैं। कोरोना मामलों की संख्या में एक दिन में 79 की बढ़ोतरी हुई है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि शनिवार को रात 10 बजकर 45 मिनट 315 मामलों में 22 लोग इस बीमारी से ठीक हो गए हैं। दुनियाभर में 3 लाख से ज्यादा लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं और करीब 13,000 लोगों की मौत हो चुकी है।


*प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अपिल...*
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार रात को शहर से गांव लौट रहे लोगों से आग्रह किया। उन्होंने कहा कि कोरोना के भय से मेरे बहुत से भाई-बहन जहां रोजी-रोटी कमाते हैं, उन शहरों को छोड़कर अपने गांवों की ओर लौट रहे हैं। भीड़भाड़ में यात्रा करने से इसके फैलने का खतरा बढ़ता है। आप जहां जा रहे हैं, वहां भी यह लोगों के लिए खतरा बनेगा। आपके गांव और परिवार की मुश्किलें भी बढ़ाएगा। उन्होंने आगे लिखा, “मेरी सबसे प्रार्थना है कि आप जिस शहर में हैं, कृपया कुछ दिन वहीं रहिए। इससे हम सब इस बीमारी को फैलने से रोक सकते हैं। रेलवे स्टेशनों, बस अड्डों पर भीड़ लगाकर हम अपनी सेहत के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं। कृपया अपनी और अपने परिवार की चिंता करिए,आवश्यक न हो तो अपने घर से बाहर न निकलिए।”


Post A Comment:

0 comments: