*झाबुआ~अंतिम भगोरिया में हजारों की तादात में पहुँचे ग्रामीण*~~

*अलग-अलग राजनैतिक पार्टी से जनप्रतिनिधि ढोल मादल की थाप पर थिरकते हुए निकाली गैर*~~

झाबुआ से दशरथ सिंह कट्ठा ब्युरो~~

झाबुआ - आदिवासी समाज का पर्व भगोरिया,भगोरिया पर्व रम्भापुर में सोमवार को लाखो की तादात में पहुँचे ग्रामीणो ने उल्लास उमंग मोज मस्ती के साथ मनाया गया अंतिम भगोरिया होने की वजह से ग्रामीणों का हुजूम सा उमड़ पड़ा होली से पहले आने वाले हाटबाजारो की रौनक यह पर्व भगोरिया आदिवासी समाज द्वारा धूमधाम से मनाया गया ! बच्चों से लेकर बुजुर्गो तक अपनी पारम्परिक व आधुनिक वेशभूषा के साथ ढोल मॉदल  बजाते और एक जेसे परिधानो मैं नजर आए यूवतियॉ व महिलाओं मैं भी  खुशी का माहौल रहा और वे भी परम्परागत तरीके से भगोरिया पर्व मनाती पहुँची

*थांदला विधायक वीरसिंह भूरिया ने की भगोरिया पर्व में शिरकत की*

कांग्रेस व भाजपा दोनों दलों द्वारा रम्भापुर में गैर निकाली गई । कांग्रेस की  की और से गेर में थादंला विधायक वीरसिह भूरिया ने मांदल की थाप दी और मांदल की थाप पर थिरकते नजर आए गैर में कांग्रेस के सरपँच और सैकड़ों कांग्रेसी कार्यकर्ता उपस्थित थे तो वही गेर में भाजपा से पूर्व विधायक कलसिंह भाभर और भाजपा के कई सरपँच ओर सेकड़ो की तादात में भाजपा कार्यकर्ता गैर में शामिल हुए गैर में  भाजपा के पूर्व विधायक कलसिंह भाभर भी पीछे नही रहे उन्होंने भी मांदल की थाप दी और मांदल की थाप पर थिरकते नजर आए 


*मेले में झूले चकरी एवं जगह जगह मिठाई की दुकान लगी*

मेले के अंतिम दिन रही भारी भीड़ मेले में झुके चकरी एवं जगह-जगह मिठाई की दुकान, पान की दुकान एवं कपड़ों की दुकान  एवं खिलौना दुकान, किराना दुकान,ठंडाई की दुकान देखने को मिली एवं सुबह से शाम तक ग्रामीणों ने झूले चकरी एवं दुकानों का लुफ्त उठाया एवं आदिवासी अंचल एवं आसपास के क्षेत्रों के लोगों ने अपने अपने परिधान पहन कर एक जैसी पोशाकें एवं युवक चश्मा लगाए एवं मुंह में पान खा कर युवतियां एक समान ड्रेस पहन कर चांदी के आभूषण धारण कर ,कतार बन्द चलकर इस अंतिम भगोरिया पर्व का आनंद लिया ! इस त्यौहार को पारंपरिक रूप से मनाते हैं इस त्यौहार में आपस में मिलजुल कर प्रणय पर्व भगोरिया का आनंद लेते हैं भगोरिया का उत्साह दोपहर बाद परवान चढ़ा तो वही मेले में मन्नत धारी अपनी मन्नत को पुरी करने के लिए मेले की परिक्रमा करने आते हैं ! और मन्त धारी अपनी मन्नत को होली के दूसरे दिन उतारते हैं !


*पुलिस प्रसाशन की और से सुरक्षा की दृष्टि को ध्यान में रख कर व्यवस्था की गई*

रंभापुर बस स्टैंड से लेकर दशहरा मैदान तक एवं मुख्य बाजार में ग्रामीणों की खाफी भीड़ रही जिसे लेकर पुलिस प्रशासन की ओर से मेले में सुरक्षा दृष्टि को ध्यान में रखते हुए थांदला  एसडीओपी एम.एस.गवली और मेघनगर थाना प्रभारी श्रीमती  कोशल्या चौहान एवं रम्भापुर चौकी प्रभारी हरि सिंह चुंडावत के नेतृत्व में पुलिस बल द्वारा सुरक्षा की चाक चोबन व्यवथा की गई थी ! ग्राम पंचायत और सेवा भारती द्वारा पेयजल की व्यवस्था रखी गई !


Post A Comment:

0 comments: