*मनावर ~कोरोना वाइरस के कारण क्षेत्र के हजारों मजदूर अन्य प्रदेशों में हो रहे परेशान* ~~                                    

*क्षेत्र के आदीवासी मजदूर जो अपनी आजीविका की तलाश में अन्य राज्यों में गये थे जयस के राष्ट्रीय सरंक्षक डॉ हीरालाल अलावा की सक्रिय पहल पर प्रदेश सरकार ने उन्हे लाने हेतु तेज किये प्रयास* ~~                                     

*धार, झाबुआ,अलीराजपुर,बड़वानी जिले के हजारों मजदूर फंसे पड़े है*   ~~      

निलेश जैन मनावर ~~

जयस के राष्ट्रीय सरंक्षक विधायक डॉ हीरालाल अलावा द्वारा प्रदेश के जो आदीवासी क्षेत्रों के मजदूर अपनी आजिवीका की तलाश में जो अन्य प्रांत गुजरात, महाराष्ट्र, राजस्थान में पलायन पर गये है तथा राज्यों में कोरोना वायरस की महामारी के बचाव के लिये सरकारों द्वारा लॉकडाउन घोषित किये जाने के कारण मसीबत में फंसे धार,झाबुआ,अलीराजपुर,बड़वानी तथा अन्य जिलों के हजारों आदिवासियों मजदुर को वापस लाने जो विशेष ध्यान  रखकर तत्काल 26 मार्च को प्रदेश के सभी जिला कलेक्टरों को जो प्रदेश के सरकार एवं प्रशासन द्वारा आदेश देकर आदीवासी मजदूरों को अपने राज्य लाने की सरहानीय पहल की गई है। जिसकों लेकर जयस के राष्ट्रीय सरंक्षक एवं विधायक डॉ हीरालाल अलावा ने आभार माना। विधायक डॉ अलावा द्वारा 25 मार्च को पत्र के माध्यम से प्रदेश के मुख्यमंत्री का सबसे पहले ध्यान आर्कषित कराकर शीघ्र ही समस्या के निराकरण की मांग रखी गई थी। जिसमें कहा था कि मःप्रः के कई प्रदेश के आदीवासी परिवारों को लॉक डाउन के चलते तथा वाहनों की सुविधा न होने के कारण परेशान हो रहे है जिन्हे शासकिय वाहन एवं अन्य सुविधाओं की व्यवस्था के माध्यम से अपने घरों तक सुरक्षित पहुच सके ऐसी व्यवस्था सरकार से किये जाने की मांग रखी गई थी। विधायक ने बताया कि कई मजदूरो के परिजनों ने कहा कि हमारे आदिवासी लोग उन राज्यों में फंसे हैं तथा उनके पास भोजन, चिकित्सा जैसे सुविधाओं का अभाव है वापस आने के लिए उनके पास पैसा भी नहीं है तथा पेसे के अभाव एवं सहयोग नही मिलने से आदिवासी मजदूर अनेक समस्याओं से जूझते हुए जंगलों एवं मार्गो से पैदल ही अपने गृह निवास आ रहे हैं। सरकार द्वारा विधायक की मांग को गंभीरता से लेकर पत्र जारी कर मजदूरों को वापस लाने हेतु अधिकारोयों को निर्देश जारी किये गये है सरकार की सक्रियता पर जयस संगठन ने आभार माना।


Post A Comment:

0 comments: