सेगाव~स्थानीय प्रशासन ने ली आपातकालीन बैठक*~~

*अफवाहों पर ध्यान ना देकर प्रशासन का सहयोग करे* ~~

*अलग अलग झोन बनाकर की जावेगी मानिटरिंग*~~

*विदेश से आए व्यक्ति रहेंगे विशेष निगरानी में*~~

बाहर से आए व्यक्तियों पर सतत निगरानी रखे यदि कोई व्यक्ति बाहर से आए हैं तो उसकी सूचना प्रशासन को तत्काल दे,विदेश से आए व्यक्ति की विशेष निगरानी में रखा जाएगा।
यह बात बुधवार को जनपद परिसर में कोरोना को लेकर आपात कालीन बैठक में तहसीलदार राधेश्याम पाटीदार द्वारा कही।
उन्होंने कहा कि धारा 144 लगाकर लॉक डाउन किया गया है। लोगों को अपने घरों में रहने के लिए प्रेरित किया जा रहा है और जो लोग बेवजह सड़कों पर घूमते पाए गए उन्हें कड़ा संदेश दिया गया है। पुलिस ने ऐसे लोगों को उठक बैठक लगवाकर समझाइश दी जा रही हे और संदेश दिया कि जो लोग सरकारी निर्देशों का पालन नहीं कर रहे हैं वह खुद अपने परिवार और समाज के दुश्मन हैं। इस दौरान नगर  पूरी तरह बंद है इसमें दूध फल सब्जी मेडिकल जैसी कुछ आवश्यक सेवाओं और दुकानों को छूट दी गई है।


कोरोना वायरस के प्रभाव को रोकने के लिए टीम बनाई गई है। इन टीमों को तहसील और ब्लाक स्तर पर तैनात किया गया है साथ ही सभी ग्राम पंचायतों के सचिव के माध्यम से अपने गांव में बाहर से आने वाले लोगों और किसी भी तरह की बीमारी के लक्षण पाए जाने वाले लोगों की जांच करवाई जा रही है।  प्रशासन की टीम सोशल मीडिया पर भी नजर रखे हुए हैं ,और किसी भी तरह की अफवाह फैलाने पर कड़ी कार्यवाही के संदेश दिए हैं। हालांकि सेगाव में अभी तक कोरोना वायरस से संक्रमित कोई केस नहीं पाया गया है फिर भी एहतियातन स्थानीय प्रशासन ने चाक-चौबंद व्यवस्था बना रखी है।इस अवसर पर नायब तहसीलदार राकेश बर्डे,सीईओ महेश पाटीदार,चोकी प्रभारी राजेंद्र अवास्या आदि मौजूद थे।
*खरगोन जिले की सीमा पर आवाजाही प्रतिबन्ध*
बुधवार को मुख्यालय से करीब तीन किलोमीटर की दूरी पर जुलवनिया रोड पर खरगोन बड़वानी की सीमा पर बाहर से आने जाने व्यक्तियों पर प्रतिबन्ध लगा दिया गया है।आवश्यक कार्य होने पर सघन पूछताछ के बाद स्वास्थ्य परीक्षण कर ही उन्हें जाने दिया जा रहा हैं।


Post A Comment:

0 comments: