बड़वानी~माॅक ड्रिल:- कोर गु्रप के सदस्यो ने संभावित कोरोना वायरस पीड़ित से किया पूछताछ और ले जाकर भर्ती किया आइसोलेशन वार्ड में ~~

बड़वानी / जिले में कोरोना वाइरस की रोकथाम हेतु गठित कौर गु्रप के सदस्यो ने रविवार को जिला न्यायालय में मिले एक संभावित कोरोना वायरस पीडित से पूछताछ कर उसे साक्ष्यों के आधार पर जिला चिकित्सालय के टेªनिंग सेंटर में बनाये गये विशेष आइसोलेशन वार्ड में भर्ती करवाया है। जहाॅ पर अब इस पर 24 घण्टे नजर रखी जायेगी और सेम्पल लेकर जाॅच हेतु भोपाल भेजा जायेगा । जाॅच रिपोर्ट में यदि इसको कोरोना वायरस से पीड़ित पाया जायेगा तो अगामी 28 दिनो तक इसे भवती में बनाये गये विशेष अस्पताल में रखकर उपचारित किया जायेगा ।
रविवार को सायरन बजाते हुए कई वाहन जिसमें सुरक्षा दस्ते सहित एम्बूलेंस में बैठे डाक्टरो की टीम भी थी, एकाएक जिला न्यायालय में प्रविष्ठ हुये और संभावित कोरोना वायरस से पीड़ित व्यक्ति से जानकारी ली कि उसे क्यो लगाता है कि वह कोरोना से पीड़ित है।
कौर गु्रप के डाक्टर श्रीमती अनिता सिंगारे, कोरोना वायरस के नोडल अधिकारी डाॅ. लक्ष्मी माहोर एवं सिविल सर्जन डाॅ. आरसी चोयल की पूछताछ के दौरान पता चला कि यह व्यक्ति दो दिन पहले हवाई सफर कर इन्दौर होते हुये बड़वानी पहुंचकर अपने परिवार के साथ रह रहा था। हवाई अड्डे पर उसके हुये स्वास्थ्य परीक्षण में उसे सामान्य पाया गया था । जिसके कारण उसे अपने घर तक पहुंचने की अनुमति इस निर्देश के साथ मिली थी कि वह अगामी 14 दिनो तक अपने घर में ही अलग - थलग, स्थानीय डाक्टरो के निर्देशन में रहेगा ।
किन्तु अब, उसको सर्दी - खांसी के साथ - साथ गले में खराश व तेज बुखार भी हो रहा है। पीड़ित के द्वारा उक्त लक्षणो का उल्लेख करने पर कौर टीम ने उसे संभावित कोरोना वायरस से पीड़ित मानते हुये उसे तत्काल कड़ी सुरक्षा में ले जाकर बनाये गये विशेष आइसोलेशन वार्ड में भर्ती करवाया है। साथ ही संभावित कोरोना वायरस से पीड़ित को जिस एम्बूलेंस से ले जाया गया था, उसको भी निर्धारित प्रक्रिया से सैनिटाइज अपने समक्ष करवाई ।
सायरण बजाते हुये कतार बंध वाहनो के काफिले से आकृर्षित होकर इस मौके पर पहुंचे मीडिया बन्धुओं को कलेक्टर श्री अमित तोमर, पुलिस अधीक्षक श्री डीआर तेनीवार, अपर जिला सत्र न्यायाधीश श्री हेमंत जोशी एवं आशुतोष अग्रवाल ने बताया कि घबराने की कोई आवश्यकता नही है। क्योंकि आकस्मिक रूप से की गई यह कार्यवाही माॅक ड्रिप का हिस्सा भर है। जिसके द्वारा यह देखा एवं परीक्षण किया गया है कि यदि कोई संभावित कोरोना वायरस से पीड़ित व्यक्ति एकाएक मिलता है तो हमारी कौर टीम के पदाधिकारी एवं कर्मी किस प्रकार उससे जानकारी प्राप्त करेंगे और उसे बनाये गये विशेष आइसोलेशन वार्ड में भर्ती करवाॅकर उसका सेम्पल लेकर जाॅच हेतु भोपाल भेजेंगे ।
इस दौरान कलेक्टर श्री अमित तोमर ने बताया कि  यह तीसरी माॅक ड्रिल थी, जिसे सार्वजनिक स्थान पर अजमाया गया है। इस दौरान देखा गया कि कौर गु्रप  के पदाधिकारी संभावित कोरोना  वायरस प्रभावित पाये जाने पर किस प्रकार उसे हेण्डल करते है। कलेक्टर ने बताया कि न्यायाधीशो एवं पुलिस अधीक्षक की उपस्थिति में किया गया यह माॅक ड्रिल पूरी तरह से सफल रहा है।


Post A Comment:

0 comments: