*झाबुआ~पुलिस दिन रात एक कर के देशभक्ति जनसेवा का फर्ज निभा रही है*~~

*राजस्व विभाग का अमला अपने कर्तव्य से विमुख होकर आराम कर रहा*~~

कोरोना महामारी संकट के समय क्या है प्रशासन की जिम्मेदारी*~~

झाबुआ से दशरथ सिंह कट्ठा की रिपोर्ट....9039452025~~

झाबुआ - मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगो का आंकड़ा 800 तक पहुच चुका है। प्रदेश के 27 जिले कोरोना वायरस से संक्रमित है.. तो वही झाबुआ जिले से कुछ साल पहले अलग नया जिला बना अलीराजपुर भी बुधवार को कोविड -19 की चपेट में आ गया। प्रदेश में 53 लोगों की मौत कोरोनावायरस के चलते हो चुकी है.. लेकिन मेघनगर राजस्व विभाग का अमला अपने कर्तव्य से विमुख होकर आराम पसंद जिंदगी इख्तियार कर अपने कर्तव्य से दूर भाग रहा हैं। वहीं पुलिस दिन रात एक कर के देशभक्ति जनसेवा का फर्ज निभा रही है। राजस्व विभाग को यह समझना होगा कि क्या है... हमारी जिम्मेदारी झाबुआ जिला कलेक्टर और जिला पुलिस कप्तान रेल की पटरी के समान कोरोनावायरस से जंग लड़ने में चक्रव्यू बना चुके हैं..लेकिन मेघनगर व राजस्व विभाग के अमले के बीच की तनातनी पटरी पर चलने वाले उन पहियों को असंतुलित कर रही है। इस मामले की तह तक जाएं तो दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा पिछले 2 दिनों पूर्व की रात मेघनगर थाना क्षेत्र के कई ग्रामों में अफवाह का दौर चला था जिला पुलिस कप्तान के आदेश पर पूरा विभाग एक मशीन और रोबोट की तरह 24 घंटे मांडली झायडा बॉर्डर,बडावली, गुर्जरपाड़ा, बाराह टोडी रंभापुर ग्रामीण एरियो में कार्य करता रहा.. लेकिन झाबुआ जिला मुख्यालय से मेघनगर राजस्व को चलाने वाला राजस्व विभाग का अमला कहीं भी दिखाई नहीं दिया सिर्फ 5 मिनट के लिए मेघनगर के शक्ति मस्जिद वाले एरिया में समझाइश देकर पुनः घर लौट गए ना ही ग्रामीण क्षेत्रों में राजस्व विभाग के अधिकारियों ने अपनी जिम्मेदारी संभाली नाही शहरी क्षेत्रों में ..अफवाह वाली रात तो ठीक अगले 2 दिनों तक इस बारे में मुनादी कराना भी वाजिब नहीं समझा। प्रधानमंत्री मोदी के लॉक डाउन 2 की घोषणा होने के बावजूद भी आज तक मुनादी नहीं कराई गई ग्रामीण क्षेत्रों के कई लोग पत्रकारों एवं जनप्रतिनिधियों से मार्केट खुले या नही खुले इस बात का जिक्र करते रहे लेकिन राजस्व विभाग का अमला अपनी जिम्मेदारियों से लगातार भागता हुआ नजर आ रहा है। जिसकी नाराजगी थांदला मेघनगर के विधायक वीर सिंह भूरिया भी जता चुके हैं। क्या अब जिले के कलेक्टर एसपी के समन्वय की तरह मेघनगर का पुलिस एवं राजस्व विभाग एक साथ चलेगा  या फिर एक दूसरे पर का क्षेत्राधिकार  होने  की बात करके दोनों विभागों में खींचतान जारी रहेगी जो इन दिनों घर-घर में हास्य एवं चर्चा का विषय बना हुआ है।


Post A Comment:

0 comments: