*झाबुआ~स्थानक जाने, मुह पर मास्क न लगाने की बात को लेकर विवाद*~~

*कोरोना वायरस संकट के दौरान पुलिस का अमला समय समय पर सख्त नजर आ रहा है*~~

*लेकिन मेघनगर प्रशासन का भाई भतीजा वाद चल रहा हैं~~

झाबुआ से दशरथ सिंह कट्ठा ब्युरो ...9039452025~~

झाबुआ - देश मे कोरोना वायरस  संकट के दौरान झाबुआ जिला कलेक्टर एवं जिला पुलिस कप्तान का अमला सख्त नजर आ रहा है। जिसके कई उदाहरण हम पिछले दिनों झाबुआ में बीएसएफ अधिकारी एवं रेलवे कर्मचारियों पर लॉक डाउन उल्लंघन एफ आई आर पंजीबद्ध की कार्रवाई के चलते देखने को मिले हैं तो मेघनगर थाना प्रभारी की पूरी टीम हर चौराहे पर सख्त नजर आ रही हैं ओर नगर बिना काम से खुमने वालो को सख्त  हिदायत दी जा रही हैं और कुछ असामाजिक तत्वों के लोगो पर कार्यवाई भी की जा रही हैं....लेकिन इसके विपरीत मेघनगर प्रशासन का भाई भतीजा वाद रवैया हर किसी की समझ के परे है। शुक्रवार को मेघनगर ऑयल मिल एरिया के समीप सुबह एक ही समाज के दो परिवार आपस में भिड़ गए पक्ष क्रमांक 1 का आरोप था कि पूरे देश में लॉक डाउन है ..ऐसे में आप स्थानक पर रोज रोज क्यों इस मोहल्ले से मेरे घर के सामने से गुजरते हो आप मुंह पर मास्क भी नहीं लगाते एवं लोक डाउन को तार-तार कर रहे हो बात यहां पर भी खत्म नहीं हुई उन्होंने तबलीगी मरकज मैं ओर हम लोगो मे क्या फर्क रह जाएगा यह बात भी कह डाली। जिसके बाद पक्ष क्रमांक 2 अपने परिवार व दोस्तो के साथ रेस्ट हाउस के सामने विवाद करने के लिए अपने मित्रों के साथ पहुंचा। दोनों तरफ से तेज आवाज एवं गाली गलौज को सुन मोहल्ले के लोग घर के बाहर आ गए एवं लॉक डाउन की धज्जियां उड़ा दी.. समय रहते पुलिस ने स्थिति को भापा व मौके पर पहुंचकर विवाद को तुरंत शांत कराया लेकिन मेघनगर प्रशासनिक अधिकारी पूरी सूचना एवं जानकारी मिलने के बाद भी मौके पर नहीं पहुंचे। और ना ही कोई कार्यवाही की जबकि लॉक डाउन के चलते सभी को मंदिर मस्जिद गिरजाघर में जाने पर पाबंदी है। इसके सी.सी.टीवी फुटेज भी अधिकारियों के पास है लेकिन भाई भतीजावाद के कारण कोई कार्रवाई नहीं हो रही। जिसका खामियाजा रंभापुर में चोरी छुपे आने जाने वाले लोगों को होम कोरनटाइन में रहकर भुगतना पड़ रही है अब ऐसा ही ढीला रवैया प्रशाशन के अधिकारियों का रहा तो जल्द ही मेघनगर को भी किसी बड़े संकट का  दुख भोगना पड़ेगा।


Post A Comment:

0 comments: