*झाबुआ~ग्रामीणों की शिकायत के बाद पूर्व विधायक कलसिंह भाबर पहुँचे राशन की दुकानों पर*~~

*ग्राम यदयपुरिया में लोगो को  नहीँ मिल रहा अनाज सेल्समैन की मनमानी के चलते*~~

*इटावा शासकीय राशन की दुकान क्यो.. मदरानी में स्थापित की गई...वहाँ तो पहले से शासकीय राशन की दुकान है.~~

झाबुआ से दशरथ सिंह कट्ठा की रिपोर्ट....9039452025~~


झाबुआ - देश में कोरोना संक्रमण से लड़ने के लिए प्रशासन लॉक डाउन का कड़ाई से पालन करवा रहा है। सब जगह बंद के चलते ग्रामीण क्षेत्रों के गरीबों को राशन(अनाज) पहुंचाने की जबावदारी महत्वपूर्ण हो जाती है। लेकिन वही मेघनगर विकास खण्ड की ग्राम तोरनिया, पतरा और पँचपीपलिया,में ग्रामीणों को राशन नहीं मिला, तो दूसरी और थांदला विकास खण्ड के ग्राम यदयपुरिया के ग्रामीणों ने शिकायत कर बताया कि शासन द्वारा तीन माह का अनाज भेजा गया था वो भी उन्हें अभी तक नही मिला जिसे लेकर पूर्व विधायक ने यदयपुरिया पहुंच कर ग्रामीणों से जानकारी ली। ग्रामीणों ने बताया कि हमे तीन महीने का राशन नही मिला मात्र अभी एक महीने का चावल दिया जा रहा हैं और बिना पात्रता पर्ची (कार्ड) के मिलने वाला मुफ्त राशन भी अभी तक ग्रामीणों को नहीं मिला है। जिस पर पूर्व विधायक ने झाबुआ कलेक्टर को राशन वितरण में हो रही अनियमितता की जानकारी दूरभाष पर दी। वही यदयपुरिया सेल्समैन को चेतावनी देते हुए कहा कि आप अपना रवैया सुधारें। और लोगो को पूरा अनाज दे जरूरतमंदों के लिए सरकार मुफ्त राशन बंटवा रही है। लेकिन आपकी लापरवाह कार्यप्रणाली के चलते राशन गरीबों को नहीं मिल रहा है। जिससे लॉक डाउन में प्रशासन की मेहनत पर पानी फिरता नजर आ रहा है।


*ग्रामीण क्षेत्रो की दूरी दुकानों का भी किया निरीक्षण*

मेघनगर विकास खण्ड की ग्राम काजलीङुगरी,नागनवा,माण्ङली मदरानी, ईटावा में भी पुर्व विधायक कलसिह जी भाबर ने पहुच कर ग्रामीणो कि समस्या सुनी खाद्यान्न वितरण व्यवस्था को देखा मेनेजर सेल्समैन को पुर्व विधायक ने आवश्यक निर्देश दिए वहीँ ग्राम ईटावा के ग्रामीणों शहीत सरपँच ने बताया कि ग्राम इटावा की शासकीय उचित मूल्य की दुकान को इटावा से 10 किलो मीटर दूर मदरानी में स्थापित करने की वजह से ग्रामीणों को काफी तकलीफों का सामना करना पड़ रहा हैं इटावा के ग्रामीणों को  खाद्यान्न (राशन) लेने के लिए मदरानी जाना हो रहा है जबकि मदरानी में पहले से ही शासकीय उचित मूल्य की दुकान हैं... सबसे बड़ा सवाल यह हैं कि मदरानी में राशन की दुकान होने के बाद भी इटावा राशन की दुकान को क्यो मदरानी ही सिप्ट किया....? जिसे लेकर पूर्व विधायक ने ग्रामीणों की समस्या से रूबरू हो कर कलेक्टर महोदय को दूरभाष पर समस्याओं से अवगत कराया ! साथ में पिछड़ा वर्ग मोर्चे के जिला अध्यक्ष मुकेश मेहता, भाजपा नेता प्रेमसिह बसोङ,मीडिया प्रभारी दशरथ सिंह कट्ठा, मदरानी सरपच पागला चारेल,बादल भुरीया, इटावा सरपच धनसुखा वसुनिया, दिपसिह गुण्ङिया, पकंज राठोर उपस्थित थे तो वही भाजपा कार्यकर्ता जनप्रतिनिध पदाधिकारी से भी मिलकर चर्चा की....


Post A Comment:

0 comments: