पाटी~एक अज्ञात लाश रामगढ़ किले की बावड़ी में मिली,मौके पर रेस्क्यू टीम और पुलिस पहुचकर लाश की शिनाख्त कराई~~

कमल खरते पाटी~~

पाटी :- थाना क्षेत्र पाटी के अंतर्गत ग्राम रामगढ़ की घटना। गुरुवार सुबह 11 बजे थाना पर सूचना आई कि एक अज्ञात लाश रामगढ़ किले में बनी बावड़ी में एक थैले में भरी लगभग 70 फिट गहरी बावड़ी में दिखाई दी। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुँची तो रामगढ़ किले की बावड़ी में एक प्लास्टिक थैले में भरी लाश दिखाई दी। वही लाश से बदबू भी आ रही थी, अज्ञात लाश के हाथ थैले से बाहर दिखाई दिए। पुलिस ने अज्ञात व्यक्ति की लाश को बावड़ी से बाहर निकाला, इसके बाद आसपास के लोगो को बुलाकर शव की पहचान करने को कहा, वही आसपास के क्षेत्र में भी लोगो को सूचना दी अगर किसी परिवार में कोई सदस्य बहार गया तो तत्काल सूचना करे, इसके बाद आसपास के थाना क्षेत्र में भी गुमशुदा की रिपोर्ट दर्ज की सूचना से अवगत हुए, तभी बड़वानी थाना क्षेत्र में 6 अप्रैल को एक रानीपुरा मोहल्ला निवासी की गुमशुदगी दर्ज की गई थी, इसके बाद बड़वानी थाना पुलिस परिजनों को सूचना दी। पुलिस की सूचना पर परिजन बड़वानी थाने आये और उसके बाद उन परिजनों को पाटी थाना क्षेत्र के ग्राम रामगढ़ में लाश मिलने की बात बताई, परिजन ग्राम रामगढ़ पहुँचे, ओर अज्ञात व्यक्ति की लाश देखा। देखने के बाद  मर्तक के दोनो कानो में पहनी बाली और कपड़े देखा तो वही था। परिजनों ने मर्तक के दोनो कान में पहनी बाली और कपड़े को देखकर शव की पहचान की। सूचनाकर्ता रायजी पिता रायसिंह निवासी रामगढ़ ने पुलिस ने बताया कि गुरुवार सुबह 10 बजे रामगढ़ किले के पास बने हनुमान मंदिर में पूजा करने के लिए गया तो आसपास बदबू आ रही थी, जिसके बाद में आसपास देखी तो कही नजर नहीं आ रहा था इसके बाद किले के अंदर बनी बावड़ी में जाकर देखा तो एक सफेद थैला दिखाई दिया वही थैले में लाश दिखाई दी जो पानी में तैर रही थी वही लाश के दोनों हाथ ऊपर दिखाई दिए। इसके बाद आसपास के लोगो को सूचना दी और इसके बाद थाना पाटी में लाश की घटना बताई। मौके पर पुलिस पहुँची, अज्ञात लाश को कुए बहार निकालकर शव की शिनाख्त कराई, इसके बाद परिजन के कथन से अज्ञात आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी। आरोपी की तलाश जारी है।पुलिस ने मृतक का नाम चितरंजन पिता उर्फ बबलू पिता गजानंद जाति पुरोहित उम्र 40 वर्ष निवासी रानीपुरा मोहल्ला बड़वानी का होना बताया।


Post A Comment:

0 comments: