*धार~लगातार जागरूकता अभियान चले- वाणिज्य कर आयुक्त*~~

अशोक शास्त्री धार~~

लॉकडाउन के दौरान अति आवश्यक वस्तुओं का परिवहन अनुमति पास जारी करके निरंतर किया जा रहा है। लोगों को अति आवश्यक सामान यथा राशन, दवाईयाँ समय-समय पर दी जाने वाली कुछ घण्टों की छूट के दौरान उनसे संबंधित दुकानों को खुलवाकर आमजन को प्रदाय की जा रही है। दूध एवं सब्जी के लिए सब्जी विक्रेताओं/हे-वेज तथा दूध विक्रेताओं को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए घर-घर बिक्री हेतु अनुमति पास जारी किए गए है।
यह जानकारी आज जिला पंचायत के सभागार में वाणिज्य कर आयुक्त राघवेंद्र सिंह को कलेक्टर श्रीकांत बनोठ द्वारा दी गई। श्री सिंह को धार जिले में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए जारी कार्यों की समीक्षा के लिए से विशेष रूप से राज्य सरकार द्वारा नियुक्त किया गया है। उन्होंने डिस्ट्रिक्ट क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप के सदस्यों से विस्तार से बातचीत की पुलिस अधीक्षक आदित्य प्रताप सिंह भी मौजूद थे।
कलेक्टर श्री बनोठ स्पष्ट किया कि उपरोक्तानुसार दी जाने वाली सुविधाओं में सोशल डिस्टेंसिंग तथा संपूर्ण लॉकडाउन का अनिवायतः पालन करवाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि जिले में लॉकडाउन अवधि दिनांक 23.03.2020 के बाद से औसतन 30000 लोगों को प्रतिदिन फूड पैकेट/भोजन वितरीत किया जा रहा है। आज दिनांक तक शहरी क्षेत्र में 4,25,222 फूड पैकेट तथा ग्रामीण क्षेत्र में 25.753 फूड पैकेट इस प्रकार कुल 5,50,975 फूड पैकेट वितरीत किए गए है। दिनांक 15.04.2020 को प्रारंभ हुए उपार्जन के संबंध में जिले के समस्त उपार्जन केन्द्रों/मण्डियों पर पर्याप्त सैनिटाइजर उपलब्ध कराया गया है।उपार्जन केन्द्रों/मण्डियों पर कृषकों एवं कर्मचारियों का तुलावटी हम्मालों के लिए कुल 50,000 मास्क एनआरएलएम से तैयार करवाकर वितरीत करवा दिए गए है। प्रत्यक उपार्जन केन्द्र पर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करवाते हुए 3-3 फीट की दूरी पर गोले बनवाए गए है। मंडियों पर पर्याप्त सैनिटाइजर सीएसआर फण्ड से उपलब्ध कराया गया है
उपार्जन केन्द्रों पर अनावश्यक भीड न हो इस हेतु परिवहन की व्यवस्था सुनिश्चित की गई है। वाणिज्य कर आयुक्त श्री सिंह ने निर्देश दिए कि सर्वे का कार्य लगातार जारी रहे ।शहरी तथा ग्रामीण क्षेत्रों में लगातार जागरूकता अभियान चलाया जाए। गांव में पोस्टर उन्हीं की बोली में हों।स्थानीय भाषा में मुनादी कराई जाए।रैंडमली सरपंच और सचिव से बात कर ग्रामीण क्षेत्र की स्थिति की भी समीक्षा करें। सेंटर में साफ-सफाई भोजन आदि की व्यवस्था सुचारू चले। लॉकडाऊन के दौरान रोजमर्रा की जरूरत की वस्तुओं की आपूर्ति बनी रहे।गर्भवती माताओं का सर्वे हो उनके स्वास्थ्य पर नजर रखी जाए।सेंटर में ड्यूटी करने वालों खाना सप्लाई करने वालों सफाई कर्मियों की सुरक्षा का विशेष ध्यान रखा जाए।बताया गया कि अभी तक मिले कोरोना पाजिटव के कॉन्टेक्ट्स खंगाल कर 223 हाई रिस्क लोगों को
आईडेंटिफाई कर क्वॉरेंटाइन किया गया है। बाद में वाणिज्य कर आयुक्त श्री सिंह ने करंट टाइम सेंटर वन टाइम सेंटर कोरन टाइम सेंटर क्वॉरेंटाइन सेंटर सहित कंटेनमेंट एरिया का भ्रमण किया डॉक्टर्स और सिस्टर्स से चर्चा कर उनके द्वारा किए जा रहे कार्य की सराहना की।


Post A Comment:

0 comments: