अंजड~बैंक में सोशल डिस्टेंस का पालन करने लाेगों काे धूप में खड़े होना मजबुरी~~

नगर के बैंकों में लेनदेन करने आए खाते धारियों को सोशल डिस्टेंस का पालन करने के लिए भरी दाेपहरी में धूप में खड़े~~

अंजड--नगर के बैंकों में लेनदेन करने आए खातेधारियों को सोशल डिस्टेंस का पालन करने के लिए भरी दाेपहरी में धूप में खड़े होना पड़ रहा है। भरी दोपहर में धूप से बचने के लिए अधिकतर बैंकों ने कोई टेंट या अन्य कोई साधन नदारत है नतो सिर छांव है और नहीं पिने के लिए पानी है। धूप में अधिक समय तक खड़े रहने से कभी भी कोई गंभीर हादसा हो सकता है।

नगर अंजड के बैंक आँफ इंडिया, एचडीएफसी, बैंक आँफ इंदौर सहित कई कियोस्क सेंटरों पर कमोबेश यही स्थिति रही। जहां पर लेनदेन करने के लिए आने ग्राहकों के गला तर करने के लिए पानी और खड़े होने के लिए कोई छाया की व्यवस्था नहीं है। कोरोना वायरस के पहले तक नगर के सभी बैंकों में 40 से 50 ग्राहक बरामदा और अंदर में बैठते थे, परंतु अब कोरोना वायरस के चलते सोशल डिस्टेंस पालन की वजह से बैंक प्रबंधन ने क्रमवार तीन चार लोगों को ही अंदर में खड़े होने की अनुमति दी है, वहीं बरामदे में भी 5 से 7 ग्राहक खड़े हुए नजर आए बाकी लोग अपनी बारी आने का इंतजार धूप में खड़े होकर करते रहे। नगर अंजड सहित आसपास के ग्रामीण क्षेत्र के आंवली, छोटा बडदा, मोहीपुरा, चकेरी, बिल्वारोड, भमोरी,चकेरी सहित गांव के हजारों किसानों, हितग्राहियों, छात्र-छात्राओं और किराना व्यावसाईयों का खाता है जो कि अपने खातों से पैसे की लेनदेन करने आते है।

लिड बैंक मैनेजर शशिकांत प्रसाद ने कहा कि
सभी ब्रांच नियमित रूप से सेनेटाईज कि जा रही है।
छाया करने के लिए के लिए बैंक मैनेजर से बात करेंगे। वो अपने यहां की व्यवस्था करने के लिए स्वतंत्र है।


Post A Comment:

0 comments: