रिगनोद~तीन डाँक्टर जो विभिन्न जगहो पर रहकर अपने प्रिय गांव वासीयो के स्वास्थ्य की कर रहे हैं चिन्ता~~


अनुराग डोडिया रिंगनोद~~


ईस बार विचार न्युज के साथ योग्यताओ से भरे रिंगनोद ग्राम और क्षैत्र के तीन डाँक्टर जो विभिन्न जगहो पर रहकर अपने प्रिय गांव वासीयो के स्वास्थ्य की चिन्ता करते हुए कर रहै है मार्मिक अपील साथ ही रिंगनोद की पूर्व प्रकाशित खबरो का किया कर्मवीरो ने धन्यवाद कहा आप जैसे मिडीयाकर्मी भी दैश की ईस जंग के योद्धा जानने के लिए पढीए पुरी खबर---------        (1) आज एक बार फिर कर्मवीरो की और ग्राम की जनता का ध्यानाकर्षण करवाते हुए बताते है कि रिंगनोद मुल के और नगर गौरव का सम्मान पा चुके डाँ अरविन्द गवरी (MBBS) जिन्होने अपनी चिकीत्सकीय शिक्षा महाराष्ट्र के नागपुर अमरावती से सन् 2010 से 2015 तक पूर्ण की और वर्तमान मै मनीपाल हाँस्पीटल द्वारका नई दिल्ली मै सिनीयर मेडीकल आँफीसर के पद पर कार्यरत है और अपनी सेवाएँ प्रदान कर रहै है ईन्होने विचार न्युज के माध्यम से यह आपील करते हुए कहा सबसे पहले तो मैरे प्रिय ग्रामवासीयो को मैरा नमस्कार परिवार के साथ साथ उतनी ही चिन्ता गाँव की भी रहती है आप सभी अमुल्य है अपने अपने घरो मै रहै स्वस्थ सुरक्षीत रहै सरकार और माननीय प्रधानमंत्री जी के निर्देशो का पालन करे पुलीस प्रशाषन और स्वास्थ्य कर्मीयो की सहायता करे जो अपनी जान जोखीम मै डालकर दिनरात आपकी सेवा मै लगे है निश्चित रुप से यह लडाई हम जितेगें यहां पाठको को विदित रहे कि ईनके पिता लक्ष्मण गवरी भी रिंगनोद पशु चिकीत्सालय मै अपनी सेवा दे चुके है और बडे भाई भी वर्तमान मे जन सेवा कर रहै हे ईनके परिवारजन ईनपर आज गर्व महसुस करते है                   






(2)  अब बात करते है  रिंगनोद के एक और कर्मवीर जो कि रिंगनोद के एक छोटे से मजरे उजाडीया मुल से है डाँ सुरेश जामोद (MBBS) ये भी गत वर्ष हिन्दु उत्सव समिती द्वारा आयोजित भव्य आयोजन मै नगर गौरव का सम्मान प्राप्त कर चुके है ईन्होने अपनी चिकीत्सकीय शिक्षा  GRMC ग्वालीयर से सन् 2010 से 2016 तक पुर्ण की और 6 माह NGO झाबुआ मै मैडीकल आँफीसर के पद पर कार्य किया वर्तमान मै ग्वालीयर से अपनी उच्च पढाई पीजी के लिए तैयारी मै जुटे है ईन्होने ग्रामजनो से अपील की है की वक्त समझदारी और एकता दिखाने का है शोशल डिस्टेन्सींग का पालन कर हम ईस महामारी की चैन तोडकर निश्चित रुप से विजयी होंगे बार बार साबुन से अपने हाथो को धोए जब तक अतिआवश्यक कार्य ना हो घर से बिल्कुल भी ना निकले अपना और अपने परिवार का सभी ध्यान रखे स्वस्थ और सुरक्षीत रहै  यही कामना ईन्होने बताया कि निश्चित रुप से ग्रामजनो और परिवारजनो से अधिक लगाव स्वाभाविक है किन्तु चिकित्सक कही भी हो सदैव जनसेवा ही लक्ष्य मन मै रहता है और ईसके लिए सदैव तत्पर रहते है                       





(3) विचार न्युज रिंगनोद के कर्मवीरो की ईस सुची मै अब बारी है पास ही के गांव गुमानपुरा निवासी डाँ पुखराज पिता कानालाल परवार (BHMS) की जो वर्तमान मै शाषकीय भोज चिकित्सालय धार मै आयुष चिकीत्सा अधिकारी के पद पर अपनी सेवा प्रदान कर रहै हे जब विचार न्युज संवाददाता से अपना चित्र ईन्होने साझा किया तब हमने ईनसे पुछा कि धार मै कार्य मिलने पर किसी प्रकार का भय तो नही हुआ? तब ईन्होने बताया की बिल्कुल भी नही उल्टा मुझे खुशी है कि एसे मुश्किल दौर मै मुझे यह जनसेवा कि अवसर प्राप्त हुआ ईन्होने ग्रामजनो से अपील की है की सदैव घर मै भी मास्क लगा कर रखे खांसी सर्दी बुखार सिरदर्द सांस लेने मै रुकावट या कोई भी परेशानी होने पर तुरंत चिकित्सकीय परामर्श और उपचार लेवें अफवाहो से बचे और ना ही फैलाए स्वस्थ सुरक्षीत रहै और अपने अपने घरो से ना निकले यहां विदित रहै की ईसी वर्ष प्रेस क्लब रिंगनोद द्वारा प्राथमिक स्वास्थ्य कैन्द्र रिंगनोद मै इयोजित स्वास्थ्य शिविर मै भी अपनी सेवाएँ दी थी                                     *विशेष*-------- *समस्त कर्मवीरो ने विचार न्युज और मिडीया का धन्यवाद किया* कहा की मिडीयाकर्मी भी सही जानकारी और बचाव उपाय बताते रहते है पुलीस प्रशाषन और स्वास्थ्य विभाग तो अपना कार्य जान जोखीम मै डालकर तन्मयता और पुरी ईमानदारी से कर ही रहै है आप लोग भी ईनके कार्यो को सामने लाकर असली हीरो का कार्य कर रहै है ईस लडाई के कर्मवीर मिडीयाकर्मी भी है सभी को नमन और साधुवाद आन्त मै विचार न्युज परिवार आमजनो से पुलीस प्रशाषन और स्वास्थ्यकर्मी जो अपनी जान जोखीम मै डालकर हमारी सुरक्षा और सेवा मै लगे हुए है उनका सहयोग करे शाषन के निर्देशो का पालन करे अपने अपने घरो मै ही रहै स्वस्थ रहै सुरक्षीत रहै सी भी तरह की परेशानी मै तुरंत प्राथमिक स्वास्थ्य कैन्द्र और पुलीस की मदद लेवें जल्द ईस महामारी से दैश उभरे ईश्वर से ईसी कामना के साथ पाठको का धन्यवाद जुडे रहिए अन्य खबरो के लिए विचार न्युज के साथ


Post A Comment:

0 comments: