धार ~कोरोनो महामारी की चपेट में जिला स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग ~~

बड़ी लापरवाही से धार का भोज चिकित्सालय हॉट स्पाट बना~~

डाँ. अशोक शास्त्री धार~~


धार ~कोरोनो महामारी की चपेट में जिला प्रशासन एवं पुलिस प्रशासन की मेहनत में जिला स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग की बड़ी लापरवाही से धार का भोज चिकित्सालय हॉट स्पाट हुआ । जिला मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाँ. सरल के अधीनस्थ   चिकित्सालय स्वास्थ्य विभाग की बड़ी लापरवाही ने पूरे चिकित्सालय को किया संक्रमित ।
          भोज चिकित्सालय में तत्काल ओपीडी, डिलीवरी , आपरेशन बंद कर इन्हें शहर के निजी चिकित्सालय में शिफ्ट कर देना चाहिए | इसके अलावा मगजपुरा आयुर्वेदिक चिकित्सालय तथा डीआरपी लाइन स्थित चिकित्सालय में अस्थाई रूप से भोज चिकित्सालय के कार्य संपादित किए जा सकते हैं भोज चिकित्सालय को अभिलंब खाली कर पूरी तरह से सैनिटाइजर किया जाना चाहिए तथा  स्टाफ को रोटेशन में ड्यूटी पर लगाना चाहिए  कोरोना पॉजिटिव मरीजों को देखने वाले समस्त स्टाफ को  पूर्ण सुरक्षा हेतु आवश्यक कीट उपलब्ध कराना चाहिए तथा उनके रहने का स्थान नियत करना चाहिए तभी जाकर चिकित्सालय में कोरोना से पीड़ित मरीजों का सफल इलाज हो पाएगा अब तक देखा गया है कि स्वास्थ्य विभाग का अमला महामारी को लेकर कतई गंभीर नहीं है इसके दुष्परिणाम आज हमको देखने को मिल रहे हैं यदि समय रहते संक्रमित कर्मचारी को क्वॉरेंटाइन कर दिया होता तो शायद  भोज चिकित्सालय में गंभीर स्थिति पैदा नहीं होती यदि  भोज चिकित्सालय को लेकर प्रशासन  समय रहते उचित कदम उठा लेता है तो आगामी दिनों में उसके परिणाम सकारात्मक मिलने की प्रबल संभावना रहेगी स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों से चिकित्सालय में बरती गई गंभीर लापरवाही पर जवाब तलब किया जाना चाहिए ताकि भविष्य में विभाग के अधिकारी किसी प्रकार की अन्य कोई गलती ना करें | स्वास्थ्य विभाग की इस घोर लापरवाही ने कलेक्टर श्री श्रीकांत बनोट एवं पुलिस प्रशासन की मेहनत एंव कोरोना मेनेजमेन्ट की धज्जियां उड़ा दी ।


Post A Comment:

0 comments: