अंजड~लाँकडाउन में भी बच्चों की समस्याओं को दूर कर रहा है चाइल्ड लाइन, चौबीस घंटे अलर्ट~~

1098 एक फोन लगाने पर मिल रही है बच्चों को मदत~~

सतीश परिहार अंजड~~

अंजड---महिला बाल विकास मंत्रालय के अधीन ठीकरी ब्लाक में संचालित चाइल्ड लाइन द्वारा लाँकडाउन में भी बच्चों की समस्याओं को गंभीरता से दूर किया जा रहा है। टोल फ्रि नंम्बर 1098 पर चौबीसों घंटे मदत को इसके टिम मेंम त्वरित कार्यवाही करने के लिए एक्टिव रहते है। गुरुवार एक ऐसा ही मामला चाइल्ड लाइन टिम के संजय आर्य के पास आया जिसमें एक छोटी बच्ची के पिछे कुछ आवारा कुत्तों ने दौड लगाना शुरू कर दिया बच्ची को कोई नुकसान नहीं हो इसलिए पुलिस स्टेशन अंजड से बाल कल्याण अधिकारी एसआई जगदीश कलमें और महिला कांस्टेबल सुशीला निंगवाल ने चाइल्ड लाइन को फोन कर सुचना दि गई बालिका छोटी होने कि वजह से खुद का नाम और पता नहीं बता पा रही थी। जिसके बाद टिम के परियोजना समन्वयक संजय आर्य टिंम मेंम्बर रविंद्र राठौड और गायत्री सनियर द्वारा बालिका को रेस्क्यू कर शहर के पिछडे तबकों में परिवार की तलाश शुरू की गई। जिसके बाद देर शाम राजपुर रोड शनि मंदिर के पिछे परिवार का पता चलने पर टिम बच्चीको लेकर पहुंची वहाँ जाकर बच्ची का नाम निशा और पिता का नाम दिनेश मालूम पडा लगभग 4 किलोमीटर दूर तक बालिका कैसे पहुची जिसके कारण माता-पिता को समझाईश देकर बच्ची सहित सभी को बाल कल्याण समिति सदस्यों ने बच्ची को उसके माता पिता के सुपुर्द किया गया


Post A Comment:

0 comments: