*मनावर ~प्रदेश की भाजपा सरकार सीर्फ बड़े बडे वादे कर मजदूरों एवं जनता को गुमराह कर रही है विधायक डॉ हीरालाल अलावा*~~
                                   
*प्रदेश के आदिवासी,गरीब, दिहाड़ी मजदूरों के लिए प्रति परिवार 10 हजार रूपये आर्थिक मदद देने की मांग कि गई* ~~                              

*प्रदेश के बाहर से आने वाले मजदूरों के लिये की गई भोजन व्यवस्था*~~

निलेश जैन मनावर ~~

महाराष्ट्र गुजरात से जो गरीब आदीवासी मजदूर कोरोना वायरस की महामारी से बचने के लिये अपने घरों में लोट रहे जिनके लिये मनावर विधायक डॉ हीरालाल अलावा द्वारा भोजन राशन पानी की व्यवस्था कि जा रही है। आज 17 को विधानसभा क्षेत्र के ग्राम सनमोड़ में दिहाड़ी मजदूरी करके अपना जीवन यापन करने वाले गरीब असहाय मजदूरों एवं ग्रामीणों को राशन एवं राहत सामग्री वितरण किया गया।विधायक डॉ हिरालाल अलावा ने कहा कि प्रदेश में बाहरी राज्य से मजदूर पैसा लगाकर अपने घर आ रहे है तथा प्रदेश की भाजपा सरकार सीर्फ बड़े बडे वादे करने जनता को गुमराह कर रही है। मनावर विधायक डॉ हीरालाल अलावा ने प्रदेश के मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर प्रदेश के आदिवासी,गरीब, दिहाड़ी मजदूरों के लिए प्रति परिवार 10 हजार रूपये के हिसाब से मासिक पैकेज देने की मांग रखी है। विधायक ने पत्र के माध्यम से अवगत कराया गया है जिसमें जयस के राष्ट्रीय सरंक्षक होने के नाते मांग कि रखी गई हैं। आपने प्रदेश सरकार कहा कि आज बाहर से काम बंद करके वापस लौटने वाले मजदूरों की आर्थिक हालत काफी गंभीर हो गई है। प्रदेश के कई जिलों के दिहाड़ी आदिवासी मजदूर , भूमिहीन आदिवासी , दलित, हायर एजुकेशन करने वाले छात्र , आदिवासी गांवों के मुखिया पटेल, छोटे- मोटे रोजगार से अपनी आजीविका चलाने वाले गरीब लोग , बारबर - सेन समाज , अन्य गरीब वर्ग एवं मजदूर वर्ग- उक्त सबकी आर्थिक स्थिति काफी कमजोर हो चुकी है । बहुत से गरीब - मजदूर लोग भूखे रहने को मजबूर हैं । उक्त सभी वर्ग प्रदेश की कुल आबादी के 80-85 प्रतिशत हिस्सा हैं । लेकिन प्रदेश सरकार द्वारा इनके लिए कोई आर्थिक पैकेज की घोषणा नहीं की है । जिससे ये लोग काफी निराश हैं।जिससे प्रदेश सरकार के प्रति रोष व्याप्त है ।


Post A Comment:

0 comments: