अंजड~लाकडाउन के बाद से अभी तक बंद पडी पान दुकानदारों ने लगाई गुहार~~

तहसीलदार ने नियमों का पालन करने की हिदायत देते हुए पान दुकानों को खोलने की स्वीकृती दी~~

पान की मिठास और गुटखे का मजा लेने के लिए अब 15 रुपये खर्च करना होंगे~~

सतीश परिहार अंजड~~

अंजड-- पान विक्रेताओं की समस्याओं को लेकर बुधवार को शहर के पान विक्रेताओं ने तहसीलदार राजेश कोचले से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन देकर कहा कि शहर में कई पान विक्रेता भुखमरी की कगार पर पहुंच चुके हैं। शहर में हर व्यापार चालू हैं, लेकिन पान दुकानें बंद रखी जा रही है। पान से ज्यादा शराब लोगों के लिए घातक है उसे चालू कर दिया है। पान दुकानदारों ने उनके दुकान खोलने की अनुमति देने की मांग की। तहसीलदार ने काफी गंभीरता से पान दुकानदारों की समस्याओं को सुना व समस्या को देखते हुए मौके पर ही दुकानों को खोलने के लिए आदेशित करते हुए कहा कि दुकानों को आप खोल सकते है लेकिन शासन के नियमों का पालन सभी दुकानदारों को करना आवश्यक है।  सोशलडिस्टेंशींग का पालन करते हुए बिना भिड करे दुकानों को खोले और इसके साथ ही साफ सफाई का ध्यान रखा जाये। वहीं मौके पर मौजूद दुकानदारों ने बताया लाकडाउन के बाद बढी महंगाई की वजह से पान और गुटखा 15 रुपये मे बेचेंगे।  इस अवसर पर अंजड के पान दुकान संचालक राजेंद्र कान्हा, यशवंत यादव, राकेश कुशवाह, बल्लु मालवी, महेंद्र मंडलोई आदी मौजूद रहे।


Post A Comment:

0 comments: