*झाबुआ~जिला पंचायत सी.ई.ओ की मनमानी*~~

*पेटलावद,मेघनगर जनपद के करोड़ रुपये के विकास कार्य झाबुआ जनपद कैसे कर रही संचालित*~~

*दाल में कुछ काल हैं...या दाल ही पूरी काली हैं?* ~~

झाबुआ से ब्युरो दशरथ सिंह कट्ठा की रिपोर्ट...9685952025~~

झाबुआ - केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा शुरू किये गए श्यामा प्रसाद मुखर्जी रुर्बन मिशन के तहत स्‍थान संबंधी नियोजन के ज़रिये क्‍लस्‍टर आधारित एकीकृत विकास पर फोकस किया जाता है। इस मिशन के तहत देश भर के ऐसे ग्रामीण क्षेत्रों में ग्रामीण क्‍लस्‍टरों की पहचान की जाती है, जहाँ शहरी घनत्‍व में वृद्धि, गैर-कृषि रोज़गारों के उच्‍च स्‍तर, आ‍र्थिक गतिविधियाँ बढ़ने और अन्‍य सामाजिक-आर्थिक पैमाने जैसे शहरीकरण के बढ़ते संकेत प्राप्त हो रहे हैं। मिशन के तहत 300 ग्रामीण क्‍लस्‍टरों को समयबद्ध एवं समग्र ढंग से विकसित करने की परिकल्‍पना की गई है।

*श्यामा प्रसाद मुखर्जी रुर्बन मिशन एक केंद्र प्रायोजित योजना है*

केंद्रीय क्षेत्र योजनाओं,केंद्र प्रायोजित योजनाओं, राज्‍य क्षेत्र/प्रायोजित योजनाओं/कार्यक्रमों, CSR कोष के ज़रिये रूपांतरित धनराशि और,कम पड़ रही अत्‍यंत आवश्‍यक धनराशि की व्यवस्था (CGF)। इसमें गैर-जनजातीय क्‍लस्‍टरों के लिये प्रति क्‍लस्‍टर 30 करोड़ रुपए और जनजातीय एवं पहाड़ी राज्‍यों वाले क्‍लस्‍टरों के लिये प्रति क्‍लस्‍टर 15 करोड़ रुपए तक के CGF का प्रावधान किया गया है।इन समूहों में नियोजित इन्फ्रास्ट्रक्चर में सभी घरों को 24x7 पानी की आपूर्ति, घरेलू और क्लस्टर स्तर पर ठोस एवं तरल अपशिष्ट प्रबंधन की सुविधा,क्लस्टर के गाँवों में और गाँव के भीतर सड़कों की व्यवस्था,हरित प्रौद्योगिकी का उपयोग करते हुए पर्याप्त स्ट्रीट लाइट और सार्वजनिक परिवहन की सुविधा शामिल है। क्लस्टर में आर्थिक सुविधाओं में कृषि सेवाओं एवं प्रसंस्करण के क्षेत्र में विभिन्न विषयगत क्षेत्र, पर्यटन और लघु एवं मध्यम उद्यम को बढ़ावा देने के लिये कौशल विकास को भी शामिल किया गया है।

*दाल में कुछ काला हैं या फिर दाल ही पूरी काली हैं...?*

हम बात कर रहे झाबुआ जिले की पेटलावाद और मेघनगर जनपद की इन दोनो विकासखण्ड में श्यामा प्रसाद मुखर्जी रूर्बन मिशन अंतर्गत होने वाले वॉटरशेड व अन्य कार्यो के तहद लगभग 1 करोड़ 45 लाख  के कार्य मेघनगर जनपद विकासखंड और 1 करोड़ 54 लाख के लगभग कार्य पेटलावद जनपद विकासखंड में निर्माण कार्य चल रहे है। कार्यालय जिला पंचायत झाबुआ द्वारा आदेश क्रमांक 1858 जो कि दिनांक 5 मार्च को जिला पंचायत सीईओ संदीप शर्मा द्वारा निकाला गया था। जिसमें मेघनगर विकासखंड के अंतर्गत ग्वाली संकुल की कचल दारा रामपुरा एम वाली ग्राम पंचायतों मैं खटामा मुनिया फलिया, झिरनिया तुमरिया में चेक डैम, रपट कम चेक डैम, चेक डैम बनना है वही पेटलावद जनपद विकासखंड के संकुल मोहनकोट में चंद्रगढ़ बोरिया फलिया, चंद्रगढ़ सूली फलिया, चंद्रगढ़ गुड्डा फलिया में रपटा कम चेक डेम का कार्य होना है उक्त आदेश में मेघनगर एवं पेटलावद जनपद की अवहेलना कर झाबुआ जनपद को पूरा कार्य संचालित करने के लिए दे दिया गया उक्त दर्शाए गए कार्यों की राशि भी नहीं दर्शाई गई इतना ही नहीं तालिका अनुसार परियोजना क्रमांक 10 विकासखंड झाबुआ को निमृत कार्य क्रियान्वयन की एजेंसी बनाया गया जबकि परियोजना क्रमांक 8 क्रियान्वयन एजेंसी मेघनगर में तो वहीं पेटलावद में अन्य एजेंसी स्थापित है उक्त आदेश में ग्राम में वॉटरशेड विकाश कार्य से संबंधित होने वाले कार्यों हेतु राजीव गांधी जलग्रहण क्षेत्र प्रबंधन मिशन को किर्यान्वयन एजेंसी नियुक्त किया किया गया हैं  लेकिन सबसे बड़ा सवाल यह है कि इस पूरे निर्माण कार्यो को झाबुआ जनपद द्वारा देखा जा रहा हैं! जबकी पेटलावाद और मेघनगर जनपद क्षेत्र का कार्य हैं ओर इन्ही जनपद को निर्माण कार्यो को देखना हैं लेकिन ऐसा न होकर झाबुआ जनपद पूरे निर्माण कार्यो की देख रेख कर रही हैं !  जब कि जिले में छः ब्लाक हैं और छः ही ब्लाकों में जनपद पंचायत हैं और इनमें जनपद सीईओ भी पदस्त हैं तो फिर झाबुआ जनपद इस पूरे निर्माणकार्यो को कैसे देख रेख कर रहा हैं ये बात कुछ हजम नहीँ हो रही की कैसे...वही और इसी कार्यो में देखा जाय तो एक बात और सामने निकल कर आ रही हैं कि परियोजना क्रमांक 08 मेघनगर ब्लाक समन्वयक हैं जो समय समय पर अपना काम कर रही हैं ! तो फिर उन्हें यह पूरा कामकाज क्यो नहीँ दिया गया....? इस निर्माणकार्यो को परियोजना क्रमांक 10 झाबुआ को कार्य दिया गया...? दाल में ही कला हैं कि पूरी दाल ही काली हैं

*क्या कहते हैं जिमेदार....*

मेरे पास कोई आदेश नहीँ इन पंचायतो में निर्माणकार्य चल रहे उनके...यह निर्माणकार्य झाबुआ जनपद के देख रेख में चल रहे हैं
*जनपद सीईओ वीरेन्द्र रावत मेघनगर*

हम प्रोजेक्ट बना कर दे रहे हैं ओर यह पूरा कामकाज देख रहे हैं आपको अगर बात करना हो तो जिला पंचायत में जिला सीईओ से बात करे
*राजन जी प्रोजेक्ट निर्माता*

हम परियोजना क्रमांक 08 ब्लाक मेघनगर के हैं और हमे कुछ भी काम नही दिया हैं अभी ये जो निर्माण कार्य चल रहा हैं उसे परियोजना क्रमांक 10 झाबुआ ब्लाक द्वारा करवा जा रहा हैं। यह कार्य हमको मिलना था हमारे इंजीनियर और दूसरे कर्मचारी खाली हाथ बैठे हैं।
*मुकेश हरवाल परियोजना समन्वयक मेघनगर*


Post A Comment:

0 comments: