झाबुआ~जिले मे पहला कोरोना पोजिटिव्ह -कोरोना ने दी दस्तक~~


महिला कोरोना पॉजिटिव व उसके पति व बच्चे को भी जिला अस्पताल में किया भर्ती ~~


झाबुआ। जिले में बाहर से लोगों का आना जारी है, ऐसे में संभावना जताई जा रही थी, कि जिले में भी कोरोना के मामले आ सकते हैं। उन लोगों की रिपोर्ट भी आ गई है जो नयागांव से दाहोद झाबुआ पेटलावद के रास्ते पहुँचे नाहरपुरा, खोरिया ओर रलियावन के मजदूरों की कोरोना लेव टेस्ट रिपोर्ट आ गई। इन लोगों की रिपोर्ट आने के बाद आज जिले में पहले कोरोना मामले की पुष्टी हुई। 19 लोगो के सेम्पल भेजे गय थे जिसमें से सुबह 17 को रिपोर्ट आ चुकी है जो नेगिटिव आई थी। जिसमे से 2 पेंडिंत थी। ,क कि रिपोर्ट कुछ देर बाद आई। तो नाहरपुरा की एक महिला को कोरोना पॉजिटिव आया। इस खबर के बाद जिला प्रशासन में खलबली मच गई है।


-पॉजिटिव आने की पुष्टि 


ग्रीन जोन में बने जिले में अभी तक कोई संक्रमित मरीज नहीं मिला था, लेकिन आज जब प्रशासन को संदिग्ध लोगों के जांच सेंपलों की रिर्पोट मिली तो सब दंग रह गये। आज रिर्पोट में पेटलावद के नाहरपुरा की रहने वाली महिला की रिपोर्ट पाजिटिव पाई गई। उक्त महिला 22 वर्षीय है। यह महिला 29 अप्रैल को नयागांव (नीमच) से बस में सफर करकर आई थी, जिस बस में दाहोद के कोरोना पॉजिटिव एक परिवार के सदस्य भी थे। इसे डाक्टरो द्वारा क्वारिंटाईन किया गया था। जहां उसका सेंपल भी लिया गया था। आज उसे उपचार हेतु झाबुआ शिफ्ट करने की कवायद की गई है। जिसके लि, प्रशासनिक अमला पेटलावद पहुंचा। अभी भी एक कि रिपोर्ट आने शेष है। बीएमओ एमएल चोपड़ा ने पॉजिटिव आने की पुष्टि की है।


 -जिले में हड़कम्प मचा हुआ


 सीएमएचओ डॉ बी,स बारिया सहित पेटलावद बीएमओ डाक्टर एमएल चौपड़ा ने बताया कि क्वारिंटाईन महिला की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। प्रशासनिक अधिकारी मौके पर पहुंच चुके हैं। इसके बाद ही उक्त संबंध में अधिक जानकारी दी जा सकती है। झाबुआ जिले में कोरोना का पहला मरीज मिलने के बाद से जिले में हड़कम्प मचा हुआ है। जहां लोग ग्रीन जोन में होने के कारण और अधिक रियायत मिलने की उम्मीद लग रहे थे, वहीं इस मामले के सामने आने के बाद लोगों में हड़कम्प देखा गया। 


-कंटेन्मेंट एरिया घोषित


कलेक्टर प्रबल सिपाहा ने बताया जिले में कर्फ्यू नही लगाया जागा। पेटलावद के नाहरपुरा गांव को कंटेन्मेंट एरिया घोषित किया जा रहा है। पूरे गांव को सैनिटाइजेशन कराने के साथ सील कर दिया गया है और नागरिकों के घर से निकलने पर पूर्ण प्रतिबंधित किया जा रहा है। ग्राम में डोर टू डोर जरूरत की चीज उपलब्ध कराने की व्यवस्था करने के साथ ही पुलिस फोर्स को तैनात किया जा रहा है।


Post A Comment:

0 comments: