अंजड~लॉकडाउन में बच्चों के साथ बड़े बुजुर्ग भी खेलों के माध्यम से अपना समय व्यतीत कर रहे हैं~~

सतीश परिहार अंजड~~


अंजड--लॉकडाउन में सभी लोग अपने घरों में बंद है। ऐसे में बच्चों के साथ बड़े बुजुर्ग भी खेलों के माध्यम से अपना समय व्यतीत कर रहे हैं। बच्चे खेलने के लिए घर से बाहर नहीं जा रहे हैं और बुजुर्गों को बाहर निकलने का स्थान नहीं मिल पा रहा है। शहर हो या गांव कहीं भी चहल पहल अभी नहीं है। स्कूल की पढ़ाई के कारण बच्चे अपने दादा-दादी, माता-पिता के साथ लंबा समय नहीं बिता पाते थे, लेकिन अब वह पूरा दिन उनके साथ बिता रहे हैं। राजेंद्र पाल ने कहा कि बच्चे पढ़ाई में व्यस्त रहते हैं। लॉकडाउन का समय परिवार के सदस्यों के साथ बिताने को मिला है। जबकि अन्य दिनों में ऐसा नहीं होता है, अब अपनों के साथ आत्मचितन करने का पूरा समय मिला है। सभी बुजुर्ग घरों के अंदर ही लूडो, सांप सीढ़ी, कैरम बोर्ड गेम खेलकर समय व्यतीत कर रहे हैं। शुरूआत में तो समय बिताना बहुत कठिन लगा था, लेकिन अब खेल-खेल में समय कैसे व्यतीत होता है पता ही नहीं चलता। बच्चे भी इससे खुश हैं कि उनके दादा और दादी अब वह पूरा दिन उनके साथ रहते हैं। हर रोज लगातार चार घंटे तक अपने पोते-पोती के साथ चौपड और कैरम बोर्ड खेलकर अपना मनोरंजन कर रहे हैं


Post A Comment:

0 comments: