*मनावर ~ओंकारेश्वर परियोजना की नहरों में पानी नही आने पर किसानों ने दी आंदोलन करने की चेतावनी*~~         

*नहरों में शीघ्र ही पानी छोड़ने के लिये प्रदेश के मुख्यमंत्री से करेगी चर्चा प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष रंजना बघेल*~~      

*स्थानीय रेस्ट हाऊस पर हुई बैठक*~~ 

निलेश जैन मनावर ~~

आज किसान चतुर्थ चरण नहर संघर्ष समिति व मनावर प्रशासन के अधिकारियों के बीच स्थानीय रेस्ट हाऊस पर बैठक रखी गई। जिसमें प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष एवं पूर्व विधायक रंजना बघेल,एसडीएम दिव्या पटेल, ओंकारेश्वर परियोजना अधिकारी आर.के.उईके मोजूद थे। आज बैठक में किसानों द्वारा नहर संबंधित समस्याएं बताते हुऐ कहा कि विभाग द्वारा आज तक नहरों में पानी नहीं छोड़ा गया और इस नहर का निर्माण सन 2013-14 में चालू होना था। लेकिन ठेकेदार एवं विभाग के अधिकारीयों की लापरवाही के कारण आज तक चालू नही किया गया। मुख्य नहर का कार्य भी बाकी है। साथ ही नहरों से निकलने वाली सहायक नहारों का कार्य  माइनर जमीनी स्तर पर लगभग लगभग 40 से 50% काम बाकी है। जिसके कारण क्षेत्र के किसानों को सिंचाई के लिये पानी नहीं मिल पा रहा है। नहर के अपूर्ण कार्य के लिये किसानों में काफी आक्रोश है। नहर के मामले को लेकर अधिकारियों और किसानों के बीच में वाद विवाद भी हुआ। अधिकारीयों को किसानों ने कहा कि हमें शीघ्र पानी चाहिए और अभी सभी खेत खाली पड़े हैं। साथ ही मायनिग नहरों का काम भी जल्द से जल्द किया जाए। किसानों ने प्रशासन को चेतवानी दी है कि 18 मई तक पानी नहीं छोड़ते हैं तो हम 19 मई को आंदोलन की राह पकड़नी पड़ेगी। किसानों का कहना है कि हमें पानी किसी भी कीमत पर चाहिए। बैठक में एसडीएम दिव्या पटेल ने विभाग को सख्त आदेश दिया है कि जल्द से नहरों की रिपेयरिंग कार्य करके पानी छोड़ा जाये। प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष रंजना बघेल ने कहा कि किसानों की समस्या को लेकर प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह से शीघ्र ही चर्चा कर हल निकाला जायेगा। हमारी सरकार किसानों का पूरा ध्यान रखेगी। बैठक में किसान कमल चोयल, नारसिंह श्यामलाल बोरूद, जितेंद्र परिहार, प्रकाश सिन्दडा, विनोद पाटीदार, बदरीभाई आदि किसान मोजूद थे।


Post A Comment:

0 comments: