अंजड~लॉकडाउन के बीच नगर अंजड में मनाई गई ईद, लोगों ने घर पर पढ़ी नमाज, मुस्लिम समाज प्रमुखों ने मोबाइल फोन पर पर्व की शुभकामनाएं दी~~

ये तस्वीर अंजड शहर की है। यहां मुस्लिम समाज सदरों ने नमाज पढकर फिर एक दूसरे को हाथ मिलाकर और और अपने परिजनों को मोबाइल फोन से ईद पर्व की बधाई दी~~

सतीश परिहार अंजड~~

अंजड---कोरोनावायरस के प्रसार को रोकने के लिए देशभर में लागू लॉकडाउन के बीच आज ईद-उल-फितर का पर्व मनाया जा रहा है। लोगों ने अपने घर पर ही नमाज पढ़ी। इस दौरान मस्जिदों में महज पांच लोगों ने नमाज अता की। वहीं मुस्लिम समाज प्रमुख सदरों ने नगरवासियों को ईद के त्यौहार की शुभकामनाएं दी है। सदर अफजल मंसूरी ने कहा- सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का पालन करते हुए पर्व मनाया जाए। समाज के लोगों ने अपने परिवार के बीच रहकर मनाई त्यौहार की खुशी ईद उल फितर का पर्व खुशियों का है। एक माह रोजा रखने के बाद रोजेदाराना जिंदगी बिताने के बाद मुस्लिम धर्मावलंबी आजादी के साथ खीते पीते हैं। ईदगाह व मस्जिदों में सामूहिक नमाज अदा की जाती है। अल्लाह का शुक्र जताते हुए गरीबों के लिए जकात निकाली जाती है। लेकिन लॉकडाउन के चलते इस बार ईद का उल्लास कुछ फीका है, सोमवार को नगर अंजड की मदीना, मोहम्मदी, जामा और मरकज मस्जिदों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए महज पांच लोगों ने नमाज पढ़ी। लोग घरों में कैद रहे। परिवार के साथ ईद की खुशियां साझा की।

नगर में सुरक्षा का कड़ा पहरा

नगर में संवेदनशील इलाकों में पुलिसकर्मियों का पहरा है। ताकि कोई व्यक्ति घर से बाहर नहीं निकलेगा। सभी घर पर रहकर ईद मनाएं और नमाज अदा करें। जिसका असर सोमवार को देखने को भी मिला। सुबह ईद के मौके पर नगर के सदर अफजल मंसुरी, सदर ईनायतुल्ला तिगाले, सदर तसलीम पठान ने चार लोगों के साथ नगर कि अलग अलग मस्जिदों में सोशल डिस्टेंस के साथ ईद की नमाज अदा करते हुए कोरोना महामारी से लोगों की सुरक्षा व देश की तरक्की की दुआ मांगी।


Post A Comment:

0 comments: