झाबुआ~बिजली उपभोक्ताओं को बढे हुये बिजली के बिलो का लगा झटका~~

झाबुआ। संजय जैन~~

कोरोना सक्रमण के चलते एक और जहां पुरे देश में लॉक डाउन घोषित है, जिसके चलते आमजन की आय के स्त्रोत पूर्ण रूप से ठप्प है, ऐसे में लोगो की चिंता बढ़ रहीं है। वहीं दूसरी और उन्हें मिलने वालें भारी भरकम बिजली बिल से जोर का झटका लगा है। उपभोक्ता बता रहे है कि पिछले दो माह से काम धंधे सब बंद पडे है। वहीं पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी द्वारा उन्हें दुगना तिगना बिल थमा दिया है। इतनी तो लाईट की खपत हीं नहीं हुई है,तो फिर किस आधार पर विभाग ने बिल दिया है...? वहीं कई लोगो की दुकानें पिछले दो माह से बंद है जहां बिजली खपत नहीं हो रहीं है, फिर भी ग्रामीणों को अधिक राशि का बिल थमा दिया और मेसेज व बिल के माध्यम से सुचना दी जा रहीं है। जिन उपभोक्ता के पहले बिल 100 200 आते थे अब 8000 से 14000 तक के बिल आ रहे है।

-नहीं हुई रिडिंग
पिछले लगभग 50 दिनों से लॉक डाउन चल रहा है, जिसके चलते लोगो का घर से निकलना बंद हो गया है। इन दिनों में बिजली विभाग के किसी भी कर्मचारी ने लोगो के घरों से मीटर से रिडिंग प्राप्त नहीं की है तो फिर किस आधार पर बिना रिडिंग के उपभोक्ताओं को भारी बील थमायें गयें है। लोगो ने यहाँ तक कहां कि यदि विद्युत विभाग द्वारा एवरेज बिल भी दिया गया हो तो एकदम पिछली राशि से बढ़कर कई गुना बिल दिया है जो कि लोगो के लिए आर्थिक परेशानी का विषय बन गया है।

-पिछले माह की खपत के आधार पर विद्युत बिल के मैसेज
इस सम्बंध में विधुत विभाग के सूत्रों के अनुसार शासन के निर्देशानुसार लॉकडाउन में पिछले माह की खपत के आधार पर विद्युत बिल के मैसेज दिए गए हैं, बताया तो यह भी जा रहा है कि गत वर्ष इसी अवधि के बिजली बिलों की राशि ही इस बार भेज दी गई है। विभाग आक्रोश को देखते हुए कह रहा है कि यदि किसी उपभोक्ता को इस संबंध में कोई शिकायत है तो वह कार्यालय में सुधार हेतु संपर्क कर सकते हैं।


Post A Comment:

0 comments: