झाबुआ~लॉक डाउन के तहत नगर में जिला प्रशासन ने दिखाई सख्ती~~

बेवजह घूमने वालो को पकडकर भेजा अस्थाई जेल~~

लॉक डाउन का उद्देश्य कोरोना की चेन का तोडना~~

संजय जैन झाबुआ~~

झाबुआ। संपूर्ण लॉक डाउन के तहत जिले भर में लोगो को जिला प्रशासन के द्वारा सख्ती से पालन करवाया जा रहा है। जिसमें जिले में 13 मई से 17 मई के बीच लगे संपूर्ण लॉक डाउन के बाद भी लोगों द्वारा दो एवं चार पहिया वाहनों से बेवजह नगर में घूमने पर शहर के बस स्टैंड स्थित गांधी चौराहा पर एसडीएम अभय खराड़ी एवं झाबुआ थाना प्रभारी सुरेंद्रसिंह तथा यातायात प्रभारी श्री मुजालदे ने ऐसे वाहनों को रोककर वाहन जप्त किए एवं बेवजह बाजार में घूमने वाले युवाओं को पुलिस वाहन में बिठाकर ’अस्थाई जेल भेजा’ गया। जिला प्रशासन के द्वारा पुरे नगर में बेवजह घूमने वालो पर सख्ती से कार्यवाही की गई। वही राजवाडा चौक पर भी जिला प्रशासन की कार्यवाही की गई।

 लाकडाउन के नियम का उल्लंघन करने वाले लोगों पर एसडीएम अभय खराड़ी एवं झाबुआ थाना प्रभारी सुरेंद्र सिंह ने झाबुआ शहर में गली, मौहल्लों और बाजारों में फिजूल घूमने वाले लोगों पर भी कार्यवाही करते हुए उन्हें शासकीय वाहन में बिठाकर अस्थाई जेल पॉलिटेक्निकल कॉलेज झाबुआ भेजा गया। नगर में चौराहो पर पुलिस विभाग के जवानो को तैनात कर लॉक डाउन का सख्ती से पालन करने को कहा गया। वही जिला प्रशासन के द्वारा यह सख्त निर्देश भी दिये गये कि यदि कोई भी व्यक्ति बेवजह घूमता हुआ पाया गया तो उसके विरूद्ध दण्डात्मक कार्यवाही की जायेगी। नगर में लॉक डाउन का नजारा पूर्व की तरह लगे लॉक डाउन की तहत ही दिखाई दिया। जिसमें नगरवासियो एवं व्यापारियो के द्वारा पूर्ण सहयोग प्रदान किया गया। वही दुकाने ना खुलने के आदेश पर व्यापारियो के द्वारा होम डिलेवरी की सुविधा को कायम रखा। लॉक डाउन को मतलब किसी भी व्यक्ति विशेष को परेशान करना नही है बल्कि उसके एक ओर एक ही उद्देश्य है कि कोरोना संक्रमण जैसी महामारी की चैन को जड से ही खत्म करना जिसमे लोग एक दूसरे के संपर्क में ना आ सके ओर संक्रमण ना फैल सके।

संपर्क की कडी को तोडना 

नगर में लॉक डाउन का मुख्य उद्देश्य सिर्फ कोरोना वायरस को रोकना है। जिसमे लोगो का संपर्क टूट सके ओर कोरोना जैसी महामारी एक दूसरे में फैलने से रोका जा सके। ज्ञातव्य है कि कोरोना का एक मरीज यदि किसी के सपंर्क में आता है तो वह करीब करीब 100 लोगो को प्रभावित करेगा। वही ये 100 लोग यदि किसी अन्य के संपर्क मंे आते है तो करीब करीब हजारो व्यक्तियो को संक्रमित करेगा। कोरोना संक्रमण एक से दूसरे संपर्क मे आने पर बहुत तेजी से फैलता है। जिसके लिये पुरे देश में संपूर्ण लॉक डाउन किया गया है। जिससे की संक्रमण की इस कडी को रोका जा सका ओर कोरोना संक्रमण को समाप्त किया जा सके। 


Post A Comment:

0 comments: