।।  *सुप्रभातम्*  ।।
               ।।  *संस्था  जय  हो*  ।।
        ।।  *दैनिक  राशि  -  फल*  ।।
        आज दिनांक 17 जून 2020 बुधवार संवत् 2077 मास आषाढ़ कृष्ण पक्ष की एकादशी तिथि प्रातः 07:51 बजे तक रहेंगी पश्चात द्वादशी तिथि लगेगी । आज सूर्योदय प्रातः काल 05:32 बजे एवं 07:22 बजे होगा । अश्विनी नक्षत्र प्रातः 06:04 बजे तक रहेंगा पश्चात भरणी नक्षत्र आरंभ होगा । आज का चंद्रमा मेष राशि में दिन रात भ्रमण करते रहेंगे । आज का राहू काल दोपहर 13:29 से 02:10 बजे तक रहेंगा । दिशाशूल उत्तर दिशा में रहेंगा यदि आवश्यक हो तो तिल का सेवन कर यात्रा आरंभ करें । जय हो

                  --:  *विशेष*  :--
                    *योगिनी एकादशी -*

          हिंदू धर्म में योगिनी एकादशी की विषेश महत्ता है. इस दिन श्री हरि विष्‍णु की पूजा का विधान है । माना जाता है कि योगिनी एकादशी का व्रत करने से व्रती को सभी पापों से मुक्ति मिल जाती है, साथ ही वह इस लोक के सुख भोगते हुए स्‍वर्ग की प्राप्‍ति करता है । पौराणिक मान्‍यताओं के अनुसार योगिनी एकादशी का व्रत करने से 28 हजार ब्राह्मणों को भोजन कराने का पुण्य प्राप्त होता है ।

      *योगिनी एकादशी व्रत कथा*
          स्वर्गलोक की अलकापुरी नामक नगरी में कुबेर नाम के राजा का राज था. वह बहुत धर्मी राजा थे और भगवान शिव के उपासक थे. आंधी आए, तूफान आए कोई भी बाधा उन्हें भगवान शिव की पूजा करने से नहीं रोक सकती थी. भगवान शिव के पूजन के लिए हेम नामक एक माली फूलों की व्यवस्था करता था. वह हर रोज पूजा से पहले कुबेर को फूल देकर जाया करता. हेम अपनी पत्नी विशालाक्षी से बहुत प्रेम करता था. एक दिन हेम पूजा के लिये पुष्प तो ले आया लेकिन रास्ते में उसने सोचा अभी पूजा में तो समय है तो क्यों न घर चला जाए. फिर उसने अपने घर की राह पकड़ ली. घर आने के बाद वह अपनी पत्नी को देख कामासक्त हो गया और उसके साथ रमण करने लगा. वहीं, पूजा का वक्त निकला जा रहा था और राजा पुष्प न आने के कारण व्याकुल हुए जा रहे थे. इस वजह से पूजा का वक्त बीत गया और हेम पुष्प लेकर नहीं पहुंचा तो राजा ने सैनिकों को भेज उसका पता लगाने के लिए कहा. सैनिकों ने लौटकर बताया कि वह तो महापापी, महाकामी है. वह अपनी पत्नी के साथ रमण कर रहा था. यह सुन राजा का गुस्सा सांतवे आसमान पर पहुंच गया. उन्होंने तुरंत हेम को पकड़ कर लाने के लिए कहा. अब हेम कांपते हुए राजा के सामने खड़ा हो गया. क्रोधित राजा ने कहा, 'हे नीच महापापी! तुमने कामवश होकर भगवान शिव का अनादर किया है. मैं तुझे शाप देता हूं कि स्त्री का वियोग सहेगा और मृत्युलोक में जाकर कोढ़ी होगा'.

अब कुबेर के शाप से हेम माली भूतल पर पंहुच गया और कोढ़ग्रस्त हो गया. स्वर्गलोक में वास करते-करते उसे दुखों की अनुभूति नहीं थी, लेकिन यहां पृथ्वी पर भूख-प्यास के साथ-साथ कोढ़ से उसका सामना हो रहा था. उसके दुखों का कोई अंत नजर नहीं आ रहा था. वह एक दिन घूमते-घूमते मार्कण्डेय ऋषि के आश्रम में पंहुच गया. आश्रम की शोभा देखते ही बनती थी. ब्रह्मा की सभा के समान ही मार्कंडेय ऋषि की सभा का नजारा भी था. वह उनके चरणों में गिर पड़ा और महर्षि के पूछने पर अपनी व्यथा से उन्हें अवगत करवाया. अब ऋषि मार्कण्डेय ने कहा, "तुमने मुझसे सत्य बोला है इसलिये मैं तुम्हें एक उपाय बताता हूं. आषाढ़ मास के कृष्ण पक्ष को योगिनी एकादशी होती है. इसका विधिपूर्वक व्रत करोगे तो तुम्हारे सब पाप नष्ट हो जाएंगे." अब माली ने ऋषि को साष्टांग प्रणाम किया और उनके बताए अनुसार योगिनी एकादशी का व्रत किया. इस प्रकार उसे अपने शाप से छुटकारा मिला और वह फिर से अपने वास्तविक रूप में आकर अपनी स्त्री के साथ सुख से रहने लगा । जय हो

                   *ज्योतिषाचार्य*
          डाँ. पं. अशोक नारायण शास्त्री
         श्री मंगलप्रद् ज्योतिष कार्यालय
245, एम. जी. रोड ( आनंद चौपाटी ) धार , एम. पी.
                  मो. नं.  9425491351

                   *आज का राशि फल*   

*कोरोना जैसी महामारी को भगाना हैं देश कों बचाना है*

          मेष :~ स्फूर्तिली ताजगीपूर्ण सुबह से दिन का आरंभ करेंगे । घर में मित्रों और सगे - सम्बंधियों के आवागमन से खुशीयाली का माहौल रहेगा । उनकी तरफ से मिली आकस्मिक भेंट आपको खुश कर देगी । आज आर्थिक लाभ मिलने की भी संभावना है । नये कार्य शुरू कर सकते हैं । उत्तम भोजन करने का लाभ मिलेगा ।

          वृषभ :~ आज किसी भी प्रकार के अविचारी कदम या निर्णय लेने से पहले विचार करें । किसी के साथ गलतफहमी ना हो ध्यान रखें । खराब तबीयत आपके मन को उदास बनाएगी । परिवार में स्नेहियों का विरोध करेंगे जिससे ग्लानि होगी । परिश्रम का उचित मुआवजा न प्राप्त करने के कारण निराशा होगी । आज का दिन खर्चीला होगा ।

          मिथुन :~ सामाजिक , आर्थिक तथा पारिवारिक क्षेत्र में लाभ के संकेत हैं । समाज में मान - प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी । मित्रों की तरफ से लाभ के साथ पैसे भी खर्च करेंगे । जीवनसाथी की खोज में आज उसके लिए अनुकूल दिन है । पत्नि तथा पुत्र के साथ अधिक संवादिता रहने से दांपत्यजीवन में मधुरता का अनुभव करेंगे ।

          कर्क :~ नौकरी व्यवसाय में उच्च पदाधिकारियों के प्रोत्साहन से आपका उत्साह दुगुना होगा । वेतन वृद्धि या पदोन्नति का समाचार मिल सकता हैं । माता तथा परिवार के अन्य सदस्यों के साथ निकटता रहेगी । मान प्रतिष्ठा में वृद्धि से खुश रहेंगे । स्वास्थ्य अच्छा रहेगा । सरकारी कार्यों में अनुकूलता रहेगी ।

          सिंह :~ आलस , थकान और ऊबन आपके कार्य करने की गति कम कर देंगे । पेट सम्बंधी शिकायत अस्वस्थता का अनुभव कराएँगी। नौकरी व्यवसाय में विघ्न संतोषियों की वाधकता प्रगति में बाधक बनेगी । उच्च पदाधिकारियों से आज दूर रहें । क्रोध को वश में रखें । धार्मिक कार्यों या यात्रा - प्रवास से भक्तिभाव से मन की अशांति दूर करेंगे ।

          कन्या :~ मन और संयम को आज के दिन को मंत्र बनाए , क्योंकि स्वभाव की उग्रता मनमुटाव कराएगी । हितशत्रु विघ्न करेंगे , इसलिए सचेत रहें । नए कार्य स्थगित रखें । जलाशय से दूर रहें । अत्यधिक खर्च होगा ।

          तुला :~ दैनिक कार्यों के बोझ से हल्का होने के लिए आज आप पार्टी , सिनेमा , नाटक या पर्यटन का आयोजन करेंगे और मित्रों को आमंत्रित करेंगे । नए वस्त्रालंकार खरीदने का अवसर आएगा । सार्वजनिक मान - सम्मान के अधिकारी बनेंगे । जीवनसाथी के उष्मापूर्ण सानिध्य का जी भरकर आनंद उठाएँगे ।  

          वृश्चिक :~ पारिवारिक शांति आपके तन - मन को स्वस्थ रखेगा । निर्धारित काम में सफलता मिलेगी । नौकरी में कर्मचारियों का सहयोग मिलेगा । प्रतिस्पर्धियों और शत्रुओं की चाल निष्फल होगी । आर्थिक लाभ होगा । अनायास खर्च होगा । बीमार व्यक्तियों के स्वास्थ्य में सुधार होगा।

          धनु :~ संतानों के स्वास्थ्य और पढ़ाई की चिंता से मन व्यग्र रहेगा । पेट सम्बंधी बीमारियाँ परेशान करेंगी। कार्य की असफलता आपमें  हताशा आएगी । गुस्से को वश में रखें । साहित्य , लेखन तथा कला के प्रति रुचि रहगीश। वाद - विवाद तथा चर्चा में न पड़े ।

          मकर :~ ताजगी एवं स्फूर्ति के अभाव से अस्वस्थता होगी । मन में चिंता रहेगी । परिवार के सदस्यों के साथ अनबन या तकरार से  खिन्नता होगी । समय से भोजन और शांत निद्रा से वंचित रहना पड़ेगा । स्त्री वर्ग से कोई नुकसान होगा अथवा उनके तकरार होगी । धन खर्च और अपयश से संभले ।

          कुंभ :~ आज आपका मन चिंता मुक्त होने से राहत महसूस करेंगे और उत्साह में भी वृद्धि होगी । बुजुर्गों और मित्रों से लाभ मिलेगा । मित्रों एवं स्वजनों के साथ आनंदपूर्वक समय व्यतीत करेंगे । आर्थिक लाभ और सामाजिक मान प्रतिष्ठा बढेगी ।

          मीन :~ आर्थिक आयोजन के लिए आज शुभ दिन है । निर्धारित कार्य पूरे होंगे । आय बढ़ेगी । परिवार में सुख - शांति का वातावरण रहेगा । सुरुचिपूर्ण भोजन प्राप्त होगा । स्वास्थ्य अच्छा रहेगा तथा मन की स्वस्थता आप बनाए रख पाएंगे । ( डाँ. अशोक शास्त्री )

।।  शुभम्  भवतु  ।।  जय  सियाराम  ।।
।।  जय  श्री  कृष्ण  ।।  जय  गुरुदेव  ।।


Post A Comment:

0 comments: