झाबुआ~नगर मे लॉक डाउन मे आंशिक छूट में खुलने के साथ सटौरियो ने भी खोला अपना धंधा युवा वर्ग धस रहा इस सट्टे नुमा दलदल में~~

झाबुआ। संजय जैन~~

कोरोना वायरस के सक्रमण की चैन को रोकने के लिये झाबुआ नगर सहित पूरे जिले को लॉक डाउन किया गया था । जिस पर से प्रशासन की अंाशिक छूट के बाद से ही सटौरियो ने भी अपना मुंह खोलना श्ुारू कर दिया। जिला पुलिस अधीक्षक विनित जैन के अनुसार जिले भर मे सटौरियो को सफाया करना है बताया गया था लेकिन आज भी जिला तो ठीक नगर में ही सटौरिये खुले आम घूम रहे है।

-कर रहे सट्टे का कारोबार गली कुचौ मे घूम घूम कर सटैारिये
वही कुछ एक दो सटौरियो को पकडकर पुलिस के द्वारा कागजी कार्यवाही पूर्ण की जा रही है। नगर मे लॉक डाउन के तहत मिली आंशिक छूट के दौरान सटौरियो ने अपने कारोबार शुरू कर दिये है। वही भी गली कुचौ मे घूम घूम कर ये सटैारिये अपने सट्टे का कारोबार कर रहे है। इन सटौरिये ने अपना कोई एक ठिकाना नही बना रखा है ये पुरे नगर मे घूमते फिरते ही सट्टे का नबर लगाकर खायिवाल बन अपना काम कर रहे है।

-युवा वर्ग धस रहा इस सट्टे नुमा दलदल में
नगर मे इन सटौरिये के कारण युवा लाबी इस दलदल की ओर धसती जा रही है। वही इन सटौरियो के कारण नगर मे ंयुवा वर्ग को शामिल कर इनसे सट्टे का कारोबार कर उन्हे लूटा जा रहा है। वही ऐसे कई युवा वर्ग इस गौरख धंधे मे फंस चुके है जिनमे कई युवा वर्ग को सट्टे के पैसे जुटाने ओर उसे खेलने के लिये अपराध का सहारा लेना पडता है। जिसमे उनके द्वारा कई ऐसे कृत्य किये जा रहे है जो समाज एवं कानून के लिये घातक सि़द्ध हो रहे है।

-दलदल बना देंगे पुरे नगर को सट्टे का
पूर्व मे भी नगर मे कई युवा वर्ग के द्वारा ही बडे बडे कुक्रत्य किये जा चुके है जिससे पुरा नगर हिल चुका है। वही दूसरी ओर आज भी युवा वर्ग इस दलदल की ओर झुकता जा रहा है जिससे की पुरी युवा पीढी का भविष्य अधकार की ओर बढ रहा है। ऐसे मे नवयुवको का भविष्य के साथ उनके पूरे परिवार का भविष्य खतरे से घिरा हुआ है। नगर में पुलिस की मुस्तैदी का ना के बराबर होने लगी है। जिससे की इन सटौरियो के हौसले धीरे धीरे फिर से बुलंद होते जा रहे है। ऐसे में यदि इन सटौरियो पर लगाम नही कसी गई तो ये पुरे नगर को एक सट्टे का दलदल बना देंगे। जिला पुलिस प्रशासन को इस ध्यान देने की दरकार है ।


Post A Comment:

0 comments: