बड़वानी~पर्यावरण सहजने के अभियान में सभी ने पौधे लगाकर दिया अपना सहयोग~~

बड़वानी / पर्यावरण संरक्षण आज ज्वलंत मुद्दा है किन्तु लोग भी अब इसके प्रति सजग हो रहे है। इसका प्रत्यक्ष उदाहरण रविवार को नवीन सर्किट हाउस पहाड़ी पर प्रारंभ किये गये सघन पौधारोपण अभियान के दौरान देखने को मिला । जहाॅ 3 साल के बच्चे से लेकर 70 साल तक के बुजुर्गो, महिलाओं, जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों, आमजनों, गायत्री परिवार के सदस्यों ने उत्साहपूर्वक पौधारोपण किया ।
राज्य सभा सदस्य एवं कलेक्टर ने भी लगाया पौधा
बड़वानी के नवीन सर्किट हाउस की 10 पहाड़ियों को हरा - भरा करने के इस महायज्ञ में राज्य सभा सदस्य डाॅ. सुमेरसिंह सोलंकी, कलेक्टर श्री अमित तोमर, जिला पंचायत सीईओ श्री मनोज सरियाम, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्रीमती सुनीता रावत ने भी पहुंचकर पौधारोपण कर सभी लोगो को प्रोत्साहित किया ।
कलेक्टर ने सपरिवार किया पौधारोपण
कलेक्टर श्री अमित तोमर ने पौधारोपण के इस महायज्ञ में सपरिवार पहुंचकर अपना योगदान दिया । इस दौरान उन्होने अपनी पत्नि अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्रीमती सुनीता रावत एवं दो पुत्रों मास्टर अर्थव एवं मास्टर यर्थात के साथ मिलकर पौधारोपण किया ।
पिता - पुत्रों ने मिलकर किया पौधारोपण
रविवार को हुये इस पौधारोपण अभियान के दौरान कलेक्टर के अलावा भी दो अन्य पिता - पुत्रों ने भी मिलकर पौधारोपण किया । इसमें पटवारी के पद पर कार्यरत श्री गजेन्द्रसिंह सोलंकी ने अपने 3 वर्षीय पुत्र मास्टर देवांश सोलंकी के साथ एवं निर्वाचन शाखा में कार्यरत श्री अजय भावसार ने कक्षा 10वी में पढ़ रहे अपने पुत्र निकुंज भावसार के साथ मिलकर पौधारोपण किया ।
महिलाओं ने भी किया पौधारोपण
इस पौधारोपण में महिलाओं ने भी उत्साहपूर्वक भाग लेकर पौधारोपण किया । जिसमें नायब तहसीलदार सुश्री दर्शिका मोयदे, पटवारी सुश्री अपूर्वा, सुश्री दीपशीखा, सुश्री ज्योति बिरले, सुश्री शिवानी ने भी बढ़-चढ़कर पौधारोपण किया ।
अपनी बिदाई को यादगार बनाया पौधारोपण करके
जिले से स्थानांतरित जिला पंचायत सीईओ श्री मनोज सरियाम ने भी अपनी बिदाई को यादगार बनाने के लिये पौधारोपण किया । इस दौरान उन्होने गर्मी में फूल देने वाले गुलमोहर का पौधा लगाया ।
लगाये गये 6 सौ से अधिक पौधे
नवीन सर्किट हाउस स्थल की 10 पहाड़ियों एवं वीआईपी मार्ग को शोभायमान बनाने हेतु प्रारंभ किये गये इस पौधारोपण के प्रणेता तहसीलदार श्री राजेश पाटीदार ने बताया कि रविवार को इस पहाड़ी पर 6 सौ पौधे लगाये गये है। जिसमें गुलमोहर, कचनार, कैलेंडरो, बाटलब्रश, अमलतास, टिकोमा, बोगनविलिया, यलोट्रम्पेट्री जैसी वैराटियों के पौधे लगाये गये है। जिससे गर्मी के दौरान इन पौधो में खिलने वाले फूलों के कारण यह पहाड़ी दूर से ही लोगो को आकृर्षित कर सके ।
श्री पाटीदार ने बताया कि अभी तक इन पहाड़ियों पर 10 हजार से अधिक पौधो का रोपण किया जा चुका है। वहीं पूर्व से लगे पौधो में से जो पौधे सूख गये थे उनके स्थान पर पुनः नवीन पौधे लगाये गये है। उन्होने बताया कि गर्मी के दौरान यह पौधे जीवित रहे, इसके लिये ड्रीप सिंचाई पद्धति का भी उपयोग किया जायेगा ।


Post A Comment:

0 comments: