बीड़~465 सालों मैं पहली बार नहीं मानेगी सिंगाजी महाराज की नवमी.~~

कोविड-19 के चलते हैं नहीं मनाएंगे पर्व ~~

बीड़:--रवि सलुजा ~~

निमाड़ के चमत्कारी संत सिंगाजी महाराज की नवमी आज मंगलवार को मनाई नही जाएगी .थी परंतु जिला कलेक्टर के द्वारा आदेशों में धारा 144 लागू होने के चलते कोई भी धार्मिक पर्व नहीं मनाए जाने का आदेश जारी किया गया है निमाड़ की आस्था का प्रतीक माने जाने वाले संत सिंगाजी महाराज की समाधि दिवस पर 465 सालों के अधिक समय से श्रावण सुंदी नवमी का पर्व बड़े धूमधाम से मनाया जाता रहा था सावन मास की नवमी पर संवत 1616 को शाम 4:00 बजे सिंगाजी बाबा ने समाधि ली थी इसी उपरांत सिंगाजी समाधि स्थल पर 4:00 बजे महा आरती का नवमी का  पर्व मनाया जाता रहा है हर वर्ष दो लाख से अधिक की संख्या में श्रद्धालु सिंगाजी समाधि स्थल पर दर्शन को पहुंचते थे वही स्नान घाट पर स्नान करके विधि-विधान स्वरूप ज्यादातर दर्शन पुन्य लाभ लेते है ज्यादातर भक्त जिला खंडवा,खरगोन, होशंगाबाद, हरदा,बेतूल के जिलों से भक्त दर्शन को पहुंचते थे.


Post A Comment:

0 comments: