खिलेड़ी~~ स्थानीय शासकीय हाई स्कूल स्वीकृत~~

जगदीश चौधरी खिलेडी 6261395702~~

खिलेड़ी~~ स्थानीय शासकीय हाई स्कूल स्वीकृत हुआ है तब से लगातार सुर्ख़ियों में होकर खिलेड़ी के नाम को चर्चित बनाए हुए हैं कभी हाई स्कूल भवन के लिए दो बार भूमि पूजन को लेकर चर्चा में रहा, तो कभी प्रभारी प्राचार्य द्वारा विद्यालय की छात्राओं से साइकिल वितरण के एवज में लिए गए रुपयों के कारण सुर्खियों में बना रहा ।शनिवार को मध्यप्रदेश शिक्षा बोर्ड  द्वारा जारी दसवीं कक्षा के परीक्षा परिणाम को लेकर मात्र 11% रिजल्ट के कारण आज फिर चर्चा में है।  निराशाजनक परिणाम को प्रभारी प्राचार्य शिक्षकों की कमी बताकर अपनी जिम्मेदारी से पल्ला झाड़ रहे हैं । वर्ष 19-20 का परीक्षा परिणाम मात्र 11% रहा, परीक्षा में 38 विद्यार्थीयो ने सम्मिलित होकर परीक्षा दी थी। इसमें से मात्र 4 विद्यार्थी उत्तीर्ण हो पाए ,जबकि 8 विद्यार्थियों को पूरक मिली और 26 विद्यार्थी अनुत्तीर्ण हो गए। इस मामले में जब खिलेड़ी हाई स्कूल के प्रभारी प्राचार्य शेर सिंह मंडलोई से कारण जानना चाहा तो विद्यालय में शिक्षकों की कमी बताया गया मंडलोई ने कहा की शिक्षा सत्र के प्रारंभिक दौर में 4 माह तक अतिथि शिक्षकों के भरोसे अध्यापन कार्य चलता रहा। अक्टूबर के लगभग शासकीय शिक्षक विद्यालय को मिले, इसमें भी अंग्रेजी व गणित के शिक्षक परीक्षा तक नहीं मिल सके। इनकी पढ़ाई माध्यमिक विद्यालय के शिक्षक व अतिथि शिक्षक के भरोसे रही ।वर्ष 2018 - 19 का परीक्षा परिणाम भी निराशाजनक होकर मात्र 28% रहा था, बीते वर्ष की तुलना में इस वर्ष का परीक्षा परिणाम 17% कम रहा जबकि बीते वर्ष संपूर्ण हाई स्कूल की पढ़ाई अतिथि शिक्षकों के भरोसे रही स्थानीय पालको द्वारा लगातार जनप्रतिनिधियों से शिक्षकों की मांग की जाती रही परंतु प्रशासन व जनप्रतिनिधियों ने  इस और कोई ध्यान नहीं दिया परिणाम स्वरूप 26 विद्यार्थियों का साल बिगड़ गया इन विद्यार्थियों को पुनः अगले सत्र से दसवीं कक्षा के लिए अध्ययन करना पड़ेगा। निराशाजनक परिणाम ने शिक्षा विभाग के दावों की पोल खोलकर शिक्षा की व्यवस्था पर प्रश्न चिन्ह खड़े कर दिए


Post A Comment:

0 comments: