*झाबुआ~मध्यप्रदेश बोर्ड परीक्षा के हाय सेकेंडरी के परिणाम घोषित हुए*~~

*जिले में बेटियों ने मारी बाजी*~~

*गांव की बेटी बनना चाहती हैं डॉक्टर*~~

झाबुआ जिला ब्युरो दशरथ सिंह कट्ठा...9685952025~~

झाबुआ - लंबे इन्तजात एवं कोरोना महामारी संक्रमण की विपरीत परिस्थितियों के बाद  आज मध्यप्रदेश बोर्ड परीक्षा के हाय सेकेंडरी के परिणाम घोषित हुआ जिसमे झाबुआ उत्कृष्ट विद्यालय झाबुआ मे विज्ञान विषय लेकर पढ़ने वाली भूमिका  पिता राजेश परमार ने अपने माता पिता का नाम रोशन करते हुए अपने जिले का नाम रोशन कर दिया है । भूमिका एक ऐसी छात्रा है जो अपने माता पिता के नाम के साथ साथ अपने जिले का भी नाम रोशन कर दिया है। भूमिका  ने अपनी पूरी पढ़ाई मेहनत,लग्न और विश्वास से कड़ी कठिनायों से गुजरते हुए की थी जिसका  परिणाम आज देखने को मिला जिसने उनका गौरव बड़ा दिया है भूमिता ने कक्षा 12 वी मे विज्ञान विषय मे 500 मेसे से 454 अंक प्राप्त किए जिसका प्रतिशत 90.8% अंक लाकर बड़ी उपलब्धि हासिल की है। भूमिका  झाबुआ जिले की किशनपुरी की निवासी है झाबुआ जिले मे भूमिता ने तीसरी रेंक हासिल की है। भूमिका  की इतनी बड़ी उपलब्धि हासिल करने पर उनके माता पिता ने भूमिका को आशीर्वाद देते हुए उज्वल भविष्य की कामनाये भी की है। भूमिका  को पूछने पर पर भूमिका ने विचार न्यूज को बड़ी उत्साह के साथ उतर दिया की मैं आगे नीट की तैयारी करके के डॉक्टर बनना चाहती हूँ।

*स्कूलों के प्रतिशत*

विकासखंड की रंभापुर का परिणाम उत्कृष्टट 83.3 प्रतिशत रहा वही उत्कर्ष विद्यालय मेघनगर का परिणाम 66% वही कन्या उमावि का परिणाम 54 प्रतिशत नौगांवा हायर सेकेंडरी का परिणाम 52% एवं मदरानी का परिणाम   79%13 % प्रतिशत रहा !


*यह है ग्रामीण क्षेत्र की प्रतिभावान छात्राएं*

शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय रंभापुर  में 82.3 % रहा वही कला संकाय 77.7%,विज्ञान  संकाय 92.6%, कृषि संकाय 75.5% रहा,मुस्कान संतोष भण्डारी (कला) 89.4% ,
गायत्री मांगीलाल ख़च्चर 89.4%, कल्पेश पन्नालाल डिगवाना 88% आयूषी प्रकाशचन्द्र हाडा 87.4, नितल दिनेश चन्द्र 87.2%, महिमा जगतसिंह, 86.8%,विवेक राजेन्द्रसिंह 86.4%, दिव्या तकेसिंह 85.8.%, सुनीता कैलाशचंद्र 85%, तुषार नरेंद्र बोरा 82.8%, खुसी शंकरसिंह 81.6% कविता मांगीलाल 80.4%, नितेष भोदरा 78.2%, यश चेनसिंह बरमंडलिया 76.6%, इंसानी सोमसिंग कट्ठा 76.2% रही वही श्रेष्ठ परिणाम को लेकर पालकों में खुसी देखी गई तो शिक्षकों में काफी उत्साह रहा


Post A Comment:

0 comments: