*झाबुआ~मोबलाइजर पद पर नियुक्ति को लेकर जयस ने उठाई आवाज़* ~~

*मोबलाईजर पद पर पंचायतो में नियुक्ति में पारदर्शिता होना चाहिए*~~

*जिसे लेकर जयश संगठन ने जिला कलेक्टर के नाम सोपा ज्ञापन*~~

झाबुआ जिला ब्युरो दशरथ सिंह कट्ठा...9685952025~~

झाबुआ - मध्यप्रदेश सरकार ने हाल ही में पंचायतों में मोबलाइजर नियुक्त करने का एक बड़ा फैसला लिया है। वो सही हैं ताकि बेरोजगार युवाओं को रोजगार मिल सके लेकिन पंचायतों में इस तरह की नियुक्तियां को लेकर सरपँच और सचिव अपनी मनमानी कर रहे हैं जिस का तरीका सही नहीँ हैं पंचायत राज संचानालय मध्यप्रदेश द्वारा पंचायत स्तर पर रोजगार सहायक के सहयोगी के रूप में मोबलाइजर पद की नियुक्ति की जाना है ! कितु इस नियुक्ति को लेकर एक बार फिर आदिवासी युवा जयस संघठन ने सवाल दाग दिए और जिला कलेक्टर  के नाम मेघनगर जनपद सीईओ वीरेंद्र सिंह रावत एवं एसडीएम मेघनगर जवान सिंह बघेल को जयस संघठन द्वारा  मोबलाईजर पद पर पंचायतो में नियुक्ति के समबन्ध में  पारदर्शिता लाने के अलावा इस पद हेतु विज्ञप्ति जारी करने के अलावा अनुभवी को प्राथमिकता देने के साथ ही आवेदन जमा करने पर पावती (रसीद) देने की मांग की हैं ! साथ ही जयस के कार्यकर्त्ताओ ने मांग की चयनित आवेदकों को मेरिट लिस्ट के आधार पर चयन किया जावे ! इस अवसर पर जयस के जिला मिडिया प्रभारी दिनेश वसुनिया ने कहा की मोबलाईजर पद पर नियुक्ति को लेकर विवाद जेसी स्थिति उत्पन्न हो सकती है जिसको लेकर आज हमने जिला कलेक्टर के नाम ज्ञापन दिया है तथा आगे इस नियुक्ति को लेकर पारदर्शिता नहीं बरती गई तो जयस को आगे आदोलन को लेकर बाध्य होना पड़ेगा इस अवसर पर जयस  झाबुआ के जिला अध्यक्ष अनुराग खराड़ी के नेतृत्व में जिला मिडिया प्रभारी के मार्गदर्शन में मेघनगर जयस   अध्यक्ष माधुसिंह डामोर  और  उनकी टीम द्वारा  ज्ञापन दिया गया !

*इनका कहना है _*

इस मामले को लेकर मेघनगर जनपद सीईओ का कहना है की मुझे जयस द्वारा आवेदन सोपा गया है इस मामले में सम्पूर्ण पारदर्शिता बरती जाएगी और इसकी नियुक्ति की सूचि बनाकर आगे भेजी जाएगी


Post A Comment:

0 comments: