राजोद~पत्रकार जीतू सोनी पर लादे गये फर्जी मुकदमे की उच्च स्तरीय जांच की मांग को लेकर पत्रकारों ने थाना प्रभारी राजोद को महामहिम राज्यपाल के नाम ज्ञापन सौपा~~

पवन वीर राजोद 9993688124~~

राजोद~ खोजी पत्रकार जीतू भाई सोनी पर लादे गये फर्जी मुकदमे की उच्च स्तरीय जांच की मांग को लेकर पत्रकारों ने थाना प्रभारी राजोद को महामहिम राज्यपाल मध्यप्रदेश शासन भोपाल के नाम ज्ञापन सौपा। ज्ञापन का वाचन ज्वालाप्रसाद शर्मा ने किया। ज्ञापन में उल्लेख किया कि संझा लोकस्वामी अखबार के प्रधान संपादक एवं खोजी पत्रकार जीतू भाई सोनी पर पूर्व की कमलनाथ सरकार ने द्वेष भाव से कार्रवाई करते हुए बर्बाद कर दिया। जीतू भाई सोनी और उनके परिवार पर मनमाने झूठे मुकदमे लाद दिए गए। जीतू भाई सोनी ने हनीट्रेप मामले में लिप्त उच्चाधिकारियों की अश्लील करतूतों को संझा लोकस्वामी अखबार में छापना शुरू कर दिया था। इससे नाराज होकर पूर्व की कमलनाथ सरकार और तत्तकालीन अधिकारियों ने जीतू भाई सोनी को 1,60,000 का इनामी घोषित कर दिया और दर्जनों फर्जी मुकदमे उन पर लाद दिए। जीतू भाई सोनी निष्ठावान खोजी पत्रकार हैं, अपराधी नहीं। उनके खिलाफ लगाए गए तमाम आरोप एवं फर्जी मुकदमों की उच्च स्तरीय जांच कराई जाए और उन अधिकारियों के खिलाफ भी जांच कराई जाए, जिन्होंने जीतू भाई सोनी पर फर्जी मुकदमे लादने में कर्तव्यहीनता का परिचय दिया है उन्हें भी न्याय के कटघरे में लाने का प्रयास किया जाए।
                इस आशय की मांग लेकर हम राजोद के पत्रकार महामहिम राज्यपाल महोदय की सेवा में उपस्थित हुए हैं और आप तक अपनी बात पहुंचाने के लिए माध्यम बनाया है श्रीमान थाना प्रभारी राजोद को। इस दौरान सरदारपुर से मोहन यादव, ज्वालाप्रसाद शर्मा, मनोज बैरागी,  बरमण्डल से मनोज बुंदेला, मनीष पंवार, लाबरिया से धरमचंद दैया, सुनील तुकारिया, लोकेन्द्रसिंह सोलंकी, दिनेश शर्मा,  शुभम चौहान, राजोद से रमेश चंद्र रजक, अशोक नायमा, आज़ाद अग्निहोत्री, पवन वीर, सागर सोलंकी, गोर्धन कावलिया, राहुल राठौड़, कन्हैयालाल नायमा, यामीन मंसूरी, राजेन्द्रसिंह आदि पत्रकारगण उपस्थित थे।


Post A Comment:

0 comments: