बीड़~पहली बारिश में भरा गया परियोजना के ईएस पी एरिये पर  पानी .~~

मेंकगिल कंपनी ने इसी मार्ग पर एमपीपीजीएल के अधिकारियो के साथ किया था भोजन.~~

साफ सफाई में प्रोत्साहन हासिल कर मेंकगिल ने लूटी थी वाई वाई.~~

बीड़ :-- रवि सलुजा ~~

संत सिंगाजी पांवर परियोजना दोगालिया में ईएसपी ऐश हैंडलिंग सहित कई कार्य कर रही  मेंगिल कंपनी की लापरवाही देखने को मिली पहले ही बारिश में संत सिंगाजी परियोजना के बने ईएस मार्ग पर बारिश का पानी एकत्र हो गया जिसे एमपीपीजीएल के जवाबदारो अधिकारी का कहना है की ईएसपी की प्लेटो की वाशिंग का कार्य चल रहा है जिससे यह पानी  जो हो गया है यह को बारिश का पानी नहीं है अधिकारियों की पुष्टि ने कहीं ना कहीं  कंपनी को बचाया जा रहा है
रोजाना परियोजना में काम करने वाले श्रमिक सहित अधिकारी कर्मचारी गुजरते हैं यह मार्ग एसपी एरिया की ओर जाता है जहां से सुखी राख निकलती है और ट्रैक्टरों से उसे बाहर  शिफ्ट किया जाता है करोड़ों रुपए की लागत से मैकगिल कंपनी को फेस वन केऐश हैंडलिंग की साफ-सफाई सहीत सुखी राख को फेंकने का ठेका दिया गया है परंतु कंपनी अपनी लापरवाही के चलते इस और कोई ध्यान नहीं दे रही है जिस मार्ग पर आज जलभराव की स्थिति है उसी मार्ग पर मेंकगिल कंपनी के कर्मचारियों सहित एमपी पीजीसीएल के अधिकारियों ने भोजन बनाकर साफ सफाई में उच्चतम स्तर प्राप्त करने की हवाई हवाई भी लूट ली थी परंतु आज यह जलभराव जो अधिकारियों को दिखाई नहीं दे रहा है इस भरे हुए पानी से गुजरकर श्रमिकों को काम की ओर जाना पड़ रहा है परंतु जवाबदार इस ओर कोई ध्यान नहीं

इनका कहना:- प्लेटो की वाशिंग का कार्य चल रहा है इसलिए पानी चौक हो गया हो ऊपर के बारिश का पानी नहीं कार्य सही चल रहा है

वी के कैलासिया चीफ इंजीनियर संत सिंगाजी पांवर परियोजना


Post A Comment:

0 comments: