बाकानेर~चौकी प्रभारी की कार्यप्रणाली संदेह के घेरे में~~

बाकानेर सैयद रिजवान अली~~

बाकानेर~आश्चर्य किंतु सत्य ऐसा भी होता है दो बाइक सवार आपस में एक दूसरे को क्रश करने पर कीचड़ के छींटे उड़ गए और फिर दोनों ने कहा सुनी करके रिपोर्ट कर दी एक बाइक सवार करौली का था जिसका थाना मनावर था एक बाइक सवार पर खड़ा था जिसकी चौकी वाकानेर थी दोनों ने जाकर पुलिस चौकी और थाने पर आवेदन दे दिया एक दूसरे के खिलाफ कार्रवाई का और बात एक-दो दिन तक टल गई ऐसे में ग्रामीण बुजुर्गों ने दोनों युवकों से कहा लड़ाई झगड़े में कुछ नहीं रखा है शांति बनाए रखो यूं भी कोरोना चल रहा है आपस में एक दूसरे की मदद करो और भाईचारे का संदेश फेलाओ फिर कहीं जाकर दोनों ने मनावर में स्टांप पर शपथ पत्र के आधार से राजीनामा किया एक ने राजीनामा मनावर थाने पर दे दिया दूसरे ने पुलिस चौकी बकानेर दे दिया अब ऐसे में मनावर पुलिस ने ईमानदारी का फर्ज अदा करते हुए उनके राजीनामे पर चाय भी नहीं पी लेकिन वाकानेर पुलिस वह भला इन्हें ऐसा कैसे छोड़ती वह राजीनामे मंजूर करने के 15000 लगेंगे तब छोड़ेंगे बेचारे ग्रामीण की आंख में आंसू आ गए ऐसा क्यों मीडिया वालों से मिले मीडिया वालों ने चौकी प्रभारी से जब राजीनामा हो गया है फिर इन्हें क्यों परेशान कर रहे हो तब कहीं जाकर साहब दयालु बने और इन्हें जाने दिया यह तो एक मामला था जो मीडिया के सामने आया वरना ना जाने कितने लोगों को लॉकडाउन में बताया जाता है कि वाकानेर चौकी प्रभारी नारायण रावल ने अपना शिकार बनाया यह लोग ना तो मीडिया के सामने आए ना टीआई के सामने ना एस पी आपके सामने गए बताया जाता है कि पुलिस चौकी वाकानेर में ग्रामीण अंचल के अनेक मामले आते हैं और गरीब लोग चौकी प्रभारी के शिकार होते हैं अब देखना यह है कि क्षेत्र के मीडिया कर्मी और जागरूक नागरिक चौकी प्रभारी की हरकत पर नजर रखे तो कहीं चौका देने वाले मामले उजागर होंगे बताया जाता है कि वाकानेर में अवैध सट्टा जुआ अवैध शराब चौकी प्रभारी के सानिध्य में काफी फल-फूल रही है और तो और शासकीय देसी शराब दुकान के सामने अंग्रेजी शराब की दुकान अवैध रूप से संचालित की जा रही है उस दुकान को चौकी पर बैठकर आसानी से देखा जा सकता है फिर भी चौकी प्रभारी नारायण रावल नजरअंदाज कर रहे हैं क्षेत्र के नागरिकों ने मांग की है मनावर टीआई ईमानदार छवि जिले के कप्तान एसपी साहब की ईमानदार छवि को यह चौकी प्रभारी बट्टा लगा रहा है इस पर अंकुश लगना चाहिए अब देखना यह है वरिष्ठ अधिकारी इस और ध्यान देकर गरीब जनता के साथ क्या न्याय करते हैं राजीनामा करने वाले युवकों ने कहा मीडिया को हमारा नाम अखबार में  मत छापना वरना चौकी प्रभारी हमें और परेशान करेगा और रिश्वत मांगेगा क्षेत्र की जनता ने हर दिल अजीज विधायक हीरालाल अलावा एवं वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों से न्याय की गुहार की है!


Post A Comment:

0 comments: