।।  *सुप्रभातम्*  ।।
                ।।  *संस्था  जय  हो*  ।।
        ।।  *दैनिक  राशि  -  फल*  ।।
        आज दिनांक 05 अगस्त 2020 बुधवार संवत् 2077 मास भाद्रपद कृष्ण पक्ष की द्वितीया तिथि रात्रि 10:56 बजे तक रहेगी पश्चात् तृतीया तिथि लगेगी । आज सूर्योदय प्रातः काल 05:54 बजे एवं सूर्यास्त सायं 07:11 बजे होगा । धनिष्ठा नक्षत्र प्रातः 09:25 बजे तक रहेगा पश्चात शततारा नक्षत्र आरंभ होगा । आज का चंद्रमा कुंभ राशि मे दिन रात भ्रमण करते रहेंगे । आज का राहुकाल  दोपहर 12:35 से 02:12 बजे तक रहेगा । दिशाशूल उत्तर दिशा मे रहेगा यदि आवश्यक हो तो तिल का सेवन कर यात्रा आरंभ करें  ।

                 --:  *विशेष*  :--
*आज श्री रामलला जन्मभूमि मंदिर भूमिपूजन एवं कार्यारंभ महोत्सव* *जय  हो*

                    *ज्योतिषाचार्य*
          डाँ, पं, अशोक नारायण शास्त्री
         श्री मंगलप्रद् ज्योतिष कार्यालय
245 , एम, जी, रोड ( आनंद चौपाटी ) धार, एम, पी,
                  मो, नं,  9425491351

                    *आज का राशिफल*

           मेष :~ आप का दिन मित्रों और सामाजिक कार्यों के पीछे भागदौड़ में बीतेगा । धन का खर्च भी अधिक होगा । सरकारी कार्यो में सफलता प्राप्त होगी । बडों का सहयोग भी प्राप्त होगा और उन्हें मिलने से आनंद होगा । दूर या विदेश स्थित संतान के संबंध में शुभ समाचार प्राप्त होंगे या उन्हे मिलने का अवसर प्राप्त होगा ।

          वृषभ :~ आज का दिन शुभ फलदायी है । विशेषकर व्यवसाय करने वालों के लिए आज का दिन बहुत लाभदायी रहेगा । व्यवसाय में पदोन्नती का भी योग है । कार्यालय में उच्च अधिकारी का सहयोग प्राप्त होगा । मित्रों से मुलाकात आनंद प्रदान करेगी ।

          मिथुन :~ मानसिकरुप से व्यग्रता और शारीरिक रुप से शिथिलता रहेगी । कार्य में उत्साह नहीं रहेगा । व्यवसायिक स्थल पर भी उच्चाधिकारी और सहकर्मचारी का व्यवहार नकारात्मक रहेगा । धन खर्च होगा । संतानों से मतभेद अथवा उनकी चिंता से मन व्यग्र रहेगा । प्रतिस्पर्धियों से सावधानी बरतें ।

          कर्क :~ वैचारिकरुप से नकारात्मकता छाई रहने से आज दिनभर शारीरिक और मानसिक अस्वस्थता रहेगी । इसलिए नकारात्मकता से दूर रहें । क्रोध पर आज संयम रखे । खर्च अधिक रहेगा । सरकार विरोधी प्रवृत्तियों से दूर रहना ही लाभदायी होगा ।

          सिंह :~ आज पति-पत्नी के बीच में अनबन से दांपत्य जीवन में कलेश हो सकता है । आप दोनों में से किसी का स्वास्थ्य न बिगडे़ इसका ध्यान रखें । सांसारिक तथा अन्य प्रश्नो के कारण भी आप का मन आज उदासीन रहेगा । भागीदारो के साथ भी व्यवहार में मतभेद सकता है । कोर्ट - कचहरी से दूर रहें ।

          कन्या :~ व्यवसायिक क्षेत्र में आज यश प्राप्त होने की संभावनाएँ अधिक हैं । सहकर्मचारियों का सहयोग प्राप्त होगा । पारिवारिक वातावरण में सुख का अनुभव होगा । शारीरिक और मानसिकरुप से भी आप स्वस्थ रहेंगे । आर्थिक लाभ होगा । रोगी व्यक्ति के स्वास्थ्य में सुधार होगा । प्रतिस्पर्धियों पर विजय प्राप्त होगी ।

          तुला :~ वैचारिकरुप से विशालता और वाणी की मधुरता अन्य लोगों को प्रभावित करेगी और इससे व्यक्तियों के साथ संबंधों में मेल बना रहेगा । चर्चा - विचार - विमर्श में भी आप प्रभाव जमा सकेंगे । परिश्रम की तुलना में परिणाम संतोषजनक नहीं होगा । कार्य में संभलकर आगे बढे ।  खान - पान में ध्यान रखें ।

          वृश्चिक :~ स्नेहीजनों के साथ संबंधों में सावधानी बरते । शारीरिक और मानसिकरुप से अस्वस्थता के कारण व्यग्रता रहेगी । माता का स्वास्थ्य बिगड़ सकता है । धन और कीर्ति की हानि होगी । पारिवारिक वातावरण कलेशपूर्ण रहेगा ।

          धनु :~ प्रतिस्पर्धी आज परास्त होंगे । शारीरिक और मानसिकरुप से स्वास्थ्य भी अच्छा रहेगा । नए कार्य का शुभारंभ करने के लिए समय अनुकूल है । स्नेहीजनों के साथ समय आनंद सहित बिताएंगे । आध्यात्मिकता का भी आनंद रहेगा ।

          मकर :~ आज का दिन मिश्र फलदायी है । परिवारजनों के साथ गलतफहमी या मनमुटाव से मन में ग्लानि रहेगी । निरर्थक खर्च होगा । आरोग्य के विषय में ध्यान रखें । शेयर में पूंजी - निवेश का आयोजन कर सकेंगे ।

          कुंभ :~ आर्थिक दृष्टिकोण से आज का दिन लाभदायी है । मित्रों और परिवारजनों के साथ आनंदपूर्वक समय बीतेगा । प्रवास और पर्यटन का आनंद भी आज उठा सकेंगे । आध्यात्मिकता का आश्रय लेकर वैचारिक नकारात्मकता को दूर करें ।

          मीन :~ कोर्ट - कचहरी अथवा स्थाई संपत्ति की झंझट में आज न पड़े । सभी कार्यो में मन की एकाग्रता से फायदा होगा । स्वास्थ्य संभाले । मिल रहे लाभ पाने में हानि न हो जाए ध्यान रखे । लेन - देन में सोच - विचार कर निर्णय ले । अकस्मात और गलतफहमी से दूर रहें । ( डाँ, अशोक शास्त्री )

।।  शुभम्  भवतु  ।।  जय  सियाराम  ।।
।।  जय  श्री  कृष्ण  ।।  जय  गुरूदेव  ।।


Post A Comment:

0 comments: