धार~प्राचीन परंपरा अनुसार निकले धारेश्वर महादेव धार भ्रमण पर ~~

धार।प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी प्राचीन धार्मिक परंपरा अनुसार 17 अगस्त श्रावण मास के अंतिम सोमवार को भगवान धारनाथ का छबीना निकाला गया। प्रदेश सरकार की विशेष अनुमति के तहत एक सुसज्जित शासकीय वाहन में भगवान धारेश्वर महादेव का छबीना शाम 4:30 बजे धारेश्वर मंदिर प्रांगण से परंपरागत मार्ग छत्री चौराहा, हटवाड़ा, पिपली बाजार, जवाहर मार्ग, धान मंडी चौराहा, बख्तावर मार्ग, एकता चौपाटी, उटावद दरवाजा, पुनः धान मंडी चौराहा होकर सेनापति मार्ग, पट्ठा चौपाटी, नालछा दरवाजा, पौचौपाटी, राजवाड़ा, महात्मा गांधी मार्ग, आनंद चौपाटी, शनि गली होते हुए धारेश्वर मंदिर प्रांगण में शाम 6:15 बजे संपन्न हुआ। शहर में निकलने के पूर्व भगवान धारेश्वरमहादेव का विधि-विधान अनुसार पूजन किया गया इस दौरान धार कलेक्टर अलोक कुमार सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष राजीव यादव, पूर्व सीसीबी बैंक अध्यक्ष कुलदीप बुंदेला सहित धर्म स्थान रक्षक मंडल के पदाधिकारियों ने पूजा अर्चना कर आरती में भाग लिया तत्पश्चात परंपरा अनुसार पुलिस विभाग द्वारा उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया।
भगवान धारेश्वर महादेव के नगर भ्रमण के दौरान जिला प्रशासन ने कोरोना महामारी को दृष्टिगत रखते हुए दोपहर 2:00 पश्चात शहर में लॉकडाउन घोषित कर दिया था जिसके तहत शहर की सभी धर्म प्रेमी जनता ने अपने-अपने घरों से ही दर्शन किए तथा पुष्प वर्षा कर बाबा धार नाथ का अभिनंदन किया तथा जगह जगह सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए लोगों ने हर्ष व्यक्त किया। धर्म स्थान रक्षक मंडल के अध्यक्ष डॉ शरद विजय वर्गीय, कार्याध्यक्ष डॉ मनोहर सिंह ठाकुर व महामंत्री ज्ञानेंद्र त्रिपाठी ने कोरोना जैसी महामारी के चलते विशेष परिस्थितियों में जो परंपरा अनुसार छबीना निकाले जाने का शासन द्वारा जो निर्णय लिया उसके लिए आभार व्यक्त करते हुए जिला प्रशासन को भी धन्यवाद ज्ञापित किया है जिन्होंने संपूर्ण व्यवस्थाओं का पालन करवाते हुए धार शहर में शहर की भावनाओं के अनुरूप छबीना निकालकर शहर वासियों को जिससे दर्शन का लाभ मिला।


Post A Comment:

0 comments: