*धार -: अवैध मादक पदार्थ गांजा बेचने वाला आरोपी सायबर क्राईम धार एवं थाना मनावर की गिरफ्त में*~~
                            
*आरोपी के कब्जे से 18 किलो 500 ग्राम कुल कीमती 2,00,000/- रू. का गांजा जप्त।*~~
                        
*पूछताछ में आरोपी ने अपने खेत में फसलो के बीच गांजा उगाना बताया।* ~~
                                        
*रिपोर्ट मोहन पुरोहित  Mo.9977526447*~~                    
                
धार -: पुलिस अधीक्षक जिला धार श्री आदित्य प्रताप सिंह ने जिलें में अवैध मादक प्रदार्थो की खरीदी-बिक्री करने वाले आरोपियों तथा तस्करो पर अंकुश लगाने एवं प्रभावी कार्यवाही हेतु अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक धार श्री देवेन्द्र पाटीदार के निर्देशन में धार जिलें के समस्त सीएसपी/एसडीओपी, थाना प्रभारीयों के साथ-साथ सायबर क्राईम प्रभारी संतोष कुमार पाण्डेय को लगाया गया था।
                   उक्त निर्देश के पालन में सायबर क्राईम टीम द्वारा अवैध मादक पदार्थो की खरीदी बिक्री करने वालों के संबंध आसूचना संकलित की गई, जिसमें सायबर क्राईम टीम को दिनांक 10.09.2020 को मुखबिर से सूचना मिली कि इन दिनों थाना मनावर अंतर्गत ग्राम देदला का रहने वाला जगदीश पिता छगन जमरा ने अपने खेत में कपास की फसल के बीच गांजे की खेती की थी। वह इन दिनों गांजे का व्यापार कर रहा है तथा आज रात्रि करीब 8-9 बजे गुडाडिया फाटा देदला में किसी ग्राहक को गांजा बेचने आने वाला है।
         मुखबिर की सूचना पर से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया जाकर सायबर क्राईम प्रभारी संतोष कुमार पाण्डेय एवं थाना प्रभारी मनावर बृजेश सिंह मालवीय को मय टीम के मुखबिर के द्वारा मिली सूचना की तस्दीक हेतु लगाया गया।
         पुलिस टीम द्वारा संयुक्त कार्यवाही करते हुए ग्राम देदला गुडाडिया फाटा मोड़ के पास पहुच कर नजर रखी। कुछ देर बाद मुखबिर द्वारा बताए गए हुलिए का एक व्यक्ति कंधे पर प्लास्टिक की बोरी रखे आता हुआ दिखा तथा गुडाडिया रोड़ के किनारे टेकरी के पास आकर, जमीन पर प्लास्टिक की बोरी रख कर बैठ गया। जिसे टीम द्वारा घेराबंदी कर पकड़ा, तो वह व्यक्ति पुलिस को देखकर घबराने लगा। टीम द्वारा उस व्यक्ति से नाम पता पूछते उसने धीमी आवाज में अपना नाम जगदीश पिता छगन जमरा उम्र 55 साल निवासी ग्राम देदला थाना मनावर जिला धार बताया।
          सायबर क्राईम टीम एवं थाना मनावर पुलिस ने मुखबिर द्वारा दी गई सूचना से उस व्यक्ति को अवगत कराया तथा उसके पास रखी प्लास्टिक की थैली की तलाशी ली। थैली के अंदर हरे रंग का पत्ती डंठलनुमा तीव्र गंध वाला गांजा जैसा पदार्थ मिला, जिसका टीम द्वारा परीक्षण करने पर उक्त पदार्थ गांजा होना पाया गया, जो लगभग 18 किलो 500 ग्राम कुल कीमती 2,00,000/- रू. का पाया गया। आरोपी जगदीश से गांजा के संबंध में सख्ती से पूछताछ करने पर उसने पुलिस टीम को बताया कि यह गांजा उसने पिछले साल अपने ग्राम देदला में स्थित 5 बीगा के खेत में गांव वालों की नजरो से छिपाते हुए कपास की फसल की बीच में उगाया था तथा गांजा काटकर अपने घर रख लिया था। आज मैं यह गांजा किसी ग्राहक को बेचने के लिए आया था।

      आरोपी जगदीश के कब्जे से टीम द्वारा 18 किलो 500 ग्राम गांजा विधिवत जप्त किया जाकर आरोपी को थाना मनावर लाया गया तथा आरोपी के विरूद्ध थाना मनावर में अपराध क्रमांक 695/20 धारा 8/20(ख) स्वापक औषधि और मनः प्रभारी अधिनियम 1985 का पंजीबद्ध किया गया।

         गांजे के संबंध में आरोपी जगदीश से एस.डी.ओ.पी. मनावर श्री करण सिंह रावत के नेतृत्व में थाना प्रभारी मनावर बृजेश सिंह मालवीय, उनि अशोक कनेश, आर. जयेन्द्र, आर. राघवेन्द्र, आर. लखन एवं सायबर क्राईम ब्रांच प्रभारी संतोष पाण्डेय, सउनि धीरज सिंह राठौर, प्रआर. रामसिंह गौर, आर. आर. गुलसिंह, आर. बलराम, आर. राहुल, आर. नवीन, आर. संग्राम द्वारा लगातार पूछताछ की जा रही है। जिससे ओर भी कई गांजा तस्करी व्यापार का खुलासा होने की पूर्ण संभावना है।                                                                            ब्यूरो रिपोर्ट मोहन पुरोहित जिला ब्यूरो धार !


Post A Comment:

0 comments: