*बाकानेर~उस्मान पार्षद सहित प्रदेश के कांग्रेसियों पर लगाए गए प्रकरण वापस हो  ~~

बाकानेर सैयद अखलाक अली ~~                               

ताज़िया जुलूस को लेकर पुलिस ने जो रासुका की कार्रवाई की है वो अपनी जगह है लेकिन सवाल कांग्रेस से है कि जहां एक और कांग्रेस से बीजेपी में गए ज्योति सिंधिया के तमाम समर्थकों को बीजेपी सिरमाथे लिए घूम रही है, वही हर छोटे-मोटे मामले में डीआईजी सहित आला अफसरों को घेर लेने वाले कांग्रेसी रासुका लगने पर हाजी उस्मान पटेल पार्षद  इंदौर को अकेला छोड़ रहे हैं।  जो लोग खजराना और जुलूस को समझते हैं उन्हें पता है कि उस्मान पटेल सहित वे तमाम लोग निर्दोष हैं, उन्हें राजनीति का शिकार बनाया जा रहा है। प्रशासन की कार्रवाई जांच-पड़ताल के बाद होना थी, लेकिन सोचना  शहर कांग्रेस को  चाहिए कि वो अपने  दमदार नेता को यूं अकेला छोड़कर कार्यकर्ताओ विशेषकर अल्पसंख्यक कार्यकर्ताओ को क्या मेसेज दे रही है। दरअसल हम और आप अपनी जिंदगी का सफर आंख बंद करके तय कर रहे हैं अगर हम आंखें खोल कर देखें तो हमें कई लोग पैसे मिल जाएंगे जिन्हें छोटे-छोटे कामों में छोटी छोटी जरूरत होती आज ऐसी जरूरत मध्य प्रदेश के मुसलमानों को है जिनके खिलाफ मोहर्रम के बाद पुलिस कार्रवाई होकर  प्रकरण    पंजीबद्ध है भारत का हर मुसलमान और हर नागरिक जिसमे इंसानियत बाकी है आवाज़ उठाएं वरिष्ठ कांग्रेस नेता अल्पसंख्यक विकास समिति प्रदेश अध्यक्ष शेख रियाजुद्दीन धार महू लोकसभा युवा कांग्रेस अध्यक्ष राधेश्याम महासचिव मलखान सिंह पटेल वरिष्ठ कांग्रेसी नेता जाकिर कुरेशी बबलू भाई प्रेस काउंसलिंग ऑफ वर्किंग जर्नलिस्ट प्रदेश उपाध्यक्ष सैयद रिजवान अली वाकानेर ने राष्ट्रपति राज्यपाल महोदय को पत्र लिखकर न्याय की गुहार लगाते हुए सांवेर  एवं इंदौर  तथा धार जिले में  लगाए गए प्रकरण वापस लेने की मांग की है साथ ही नायता पटेल समाज के अध्यक्ष रईस पटेल असलम पटेल जाकिर पटेल अजीत पटेल फिरोज पटेल जाकिर वारसी ने धार जिला अतिरिक्त कलेक्टर एस मालवीय को ज्ञापन देकर प्रकरण वापस लेकर न्याय की मांग की है


Post A Comment:

0 comments: