।।  *सुप्रभातम्*  ।।
                ।।  *संस्था  जय  हो*  ।।
        ।।  *दैनिक  राशि  -  फल*  ।।
        आज दिनांक 07 दिसंबर 2020 सोमवार संवत् 2077 मास मार्गशीर्ष कृष्ण पक्ष की सप्तमी तिथि सायं 06:38 बजे तक रहेगी पश्चात् अष्टमी तिथि लगेगी । आज सूर्योदय प्रातःकाल 07:03 बजे एवं सूर्यास्त सायं 05:36 बजे होगा । मघा नक्षत्र दोपहर 02:21 बजे तक रहेगा पश्चात् पूर्वा फाल्गुनी नक्षत्र आरंभ होगा । आज का चंद्रमा सिंह राशि मे दिन रात भ्रमण करते रहेंगे । आज का राहुकाल प्रातः 08:14 से 09:34 बजे तक रहेगा । अभिजीत मुहूर्त प्रातः 11:52 से 12:35 बजे तक रहेगा । दिशाशूल पूर्व दिशा मे रहेगा यदि आवश्यक हो तो दर्पण देखकर यात्रा आरंभ करे ।।  जय  हो  ।।

                    *--:  विशेष  :--*
                    *कालभैरवाष्टमी*

          सोमवार , 07 दिसम्बर 2020 को कालभैरवाष्टमी (कालभैरव जयंती) है । शिवपुराण शतरुद्रासंहिता के अनुसार “भगवान् शिव ने मार्गशीर्ष मास के कृष्णपक्ष की अष्टमी को भैरवरूप से अवतार लिया था । इसलिये जो मनुष्य मार्गशीर्ष मासकी कृष्णाष्टमी को काल भैरव के संनिकट उपवास करके रात्रि में जागरण करता हैं , वह समस्त पापों से मुक्त हो जाता है । जो मनुष्य अन्यत्र भी भक्तिपूर्वक जागरणसहित इस व्रतका अनुष्ठान करेगा , वह भी महापापों से मुक्त होकर सद्गति को प्राप्त हो जायगा ।”
🙏🏻 *वामकेश्वर तंत्र की योगिनीहदयदीपिका टीका में अमृतानंद नाथ कहते हैं - 'विश्वस्य भरणाद् रमणाद् वमनात्‌ सृष्टि - स्थिति - संहारकारी परशिवो भैरवः' अर्थात भ- से विश्व का भरण , र- से रमश , व - से वमन अर्थात सृष्टि को उत्पत्ति पालन और संहार करने वाले शिव ही भैरव हैं ।*
          इस दिन उपवास तथा रात्रि जागरण का ही विशेष महत्व है । 'जागरं चोपवासं च कृत्वा कालाष्टमीदिने । प्रयतः पापनिर्मुक्तः शैवो भवति शोभनः॥' के अनुसार उपवास करके रात्रि में जागरण करे तो सब पाप दूर हो जाते हैं और व्रती शैव बन जाता है। भैरव रात्रि के देवता माने जाते हैं और इनकी आराधना का खास समय भी मध्य रात्रि में 12 से 3 बजे का माना जाता है ।
*भैरव का मध्याह्न में जन्म हुआ था , अतः मध्याह्णव्यापिनी अष्टमी ही व्रत/पूजन में लेनी चाहिये ।*
          भविष्यपुराण , उत्तरपर्व , अध्याय ५८ के अनुसार मार्गशीर्ष कृष्णपक्ष अष्टमी में अनघाष्टमी व्रत का विधान है जिसको करने से त्रिविध पाप (कायिक, वाचिक और मानसिक) नष्ट हो जाते है और अष्टविध ऐश्वर्य (अणिमा , महिमा , प्राप्ति , प्राकाम्य , लघिमा , ईशित्व , वशित्व तथा सर्वकामावसायिता) प्राप्त होते हैं ।
          शिवपुराण में “भैरव: पूर्णरूपोहि शंकरस्य परात्मन:। मूढास्तेवै न जानन्ति मोहिता:शिवमायया।।”  को शिव का ही पूर्णरूप बताया है। ब्रह्माण्डपुराण के उत्तरभाग में “तयोरेव समुत्पन्नो भैरवः क्रोधसंयुतः” के अनुसार क्रुद्ध शिव से भैरव की उत्पत्ति तथा उसके बाद भैरव द्वारा ब्रह्मा के सिर का छेदन बताया गया है। वामनपुराण में शिव के रक्त से ८ दिशाओं में विभिन्न भैरवों की उत्पत्ति बताई गयी है । जबकि ब्रह्मवैवर्त्तपुराण में कृष्ण के दक्षिण नेत्र से भैरव की उत्पत्ति की बताई गयी है।।  जय  हो  ।।

                  *ज्योतिषाचार्य*
          डाँ. पं. अशोक नारायण शास्त्री
          श्रीमंगलप्रद् ज्योतिष कार्यालय
245 , एम. जी. रोड ( आनंद चौपाटी ) धार , एम. पी.
                  मो. नं.  9425491351

                    *आज का राशिफल*

          मेष :~ आयात निर्यात के साथ जुड़े व्यापारियों को लाभ और सफलता मिलेगी । आपकी खोई हुई वस्तु वापस मिल सकती है । प्रिय व्यक्ति के साथ प्रेम का सुखद अनुभव प्राप्त कर सकेंगे । प्रवास आर्थिक लाभ और वाहन सुख मिल सकता है । वाद - विवाद से दूर रहे ।

          वृषभ :~ निर्धारित कार्य सफलतापूर्वक होंगे । अधूरे कार्य पूरे होंगे । शारीरिक , मानसिक स्वस्थता रहेगी । आर्थिक लाभ होगा । बीमारी में राहत मिलेगी । नौकरी पेशावाले वर्ग को नौकरी में लाभ होगा । सहकर्मियों का सहयोग मिलेगा ।

          मिथुन :~ वाद - विवाद या चर्चाओं में न पडे । आत्म सम्मान को ठेस पहुँचेगी तथा स्त्री मित्रों द्वारा खर्च या नुकसान हो सकता है । पेट सम्बंधी बीमारियों से तकलीफ होगी । नए कार्य की शुरुआत और प्रवास न करे ।

          कर्क :~ शारीरिक - मानसिक अस्वस्थता रहेगी । छाती में दर्द या किसी विकार से परिवार में अशांति होगी । सार्वजनिक मानहानि होने से दुःखी होंगे । समय से भोजन नहीं मिलेगा । अनिद्रा के शिकार होंगे । धन खर्च होगा ।

          सिंह :~ कार्य सफलता और प्रतिस्पर्धियों पर विजय का नशा आपके दिलोदिमाग पर रहेगा , जिससे प्रसन्न रहेंगे । भाई - बहनों के साथ मिलकर कोई आयोजन करेंगे । मित्रों , स्नेहीजनों के साथ यात्रा हो सकती है । स्वास्थ्य अच्छा रहेगा ।

          कन्या :~ परिवार में आज आनंद का वातावरण रहेगा । वाणी की मधुरता और न्यायप्रिय व्यवहार से आप लोकप्रियता प्राप्त करेंगे । आर्थिक लाभ की संभावना है । अनैतिक प्रवृत्तियों से दूर रहे ।

          तुला :~ आपकी रचनात्मक और कलात्मक शक्ति अधिक निखरेगी । शारीरिक , मानसिक स्वस्थता अच्छी रहेगी । मनोरंजन में दोस्तों तथा परिवारजनों के साथ भाग लेंगे । आर्थिक लाभ होगा । सुंदर भोजन वस्त्र और वाहन सुख मिलेगा ।

          वृश्चिक :~ मानसिक चिंता एवं शारीरिक कष्ट से आप परेशान रहेंगे । दुर्घटना या शल्य चिकित्सा से बचे । बातचीत में गलतफहमी न हो इसका ध्यान रखे । स्वभाव में उग्रता रहेगी , इसलिए झगडे से बचे ।

          धनु :~ आर्थिक , सामाजिक और पारिवारिक दृष्टि से आपका दिन लाभदायक है । पुत्र और पत्नी से कुछ लाभ मिलेगा । आय में वृद्धि तथा व्यापार में लाभ का दिन है ।

          मकर :~ वसूली , प्रवास , आय आदि के लिए शुभ दिन है । सरकारी कार्यों में सफलता मिलेगी या नौकरी में उच्च पदाधिकारियों द्वारा आपके काम की प्रशंसा होगी । पदोन्नति की संभावना बढ़ेगी ।

          कुंभ :~ आज आपको बेचैनी , थकान और ऊबन रहेगी । आफिस तथा काम - काज मे उच्च पदाधिकारियों की नाराजगी झेलनी पड़ेगी । प्रतिस्पर्धियों के समक्ष अधिक वाद - विवाद न करे ।

          मीन :~ बीमारी मे खर्च होगे । अचानक  खर्च होगा । अन्य कामकाज में भी आपको प्रतिकूलता रहेगी । पारिवार मे मनमुटाव हो सकता है । इसलिए संभलकर बोलें ।  ( डाँ. अशोक शास्त्री )

।।  शुभम्  भवतु  ।।  जय  सियाराम  ।।
।।  जय  श्री  कृष्ण  ।।  जय  गुरुदेव  ।।


Post A Comment:

0 comments: