*मनावर~मध्य प्रदेश शासन के निर्देश पर धार जिले के मनावर कुक्षी धरमपूरी के किसानों और एनवीडीए के अधिकारीयों के साथ  बैठक संपन्न*~~

*ओमकारेश्वर नहर की समस्या समाधान हेतु फेज 1 फेज 2 के किसानों और शासन के बीच सकारात्मक सहमति बनी*~~      

*किसानों को रबी सीजन में गेहूं, चने इत्यादि फसलों के उत्पादन हेतु ओंकारेश्वर नहर के माध्यम से पानी की पर्याप्त व्यवस्था करने के निर्देश जारी*~~

निलेश जैन मनावर~~

15 दिसंबर को 5 जिले के किसानों द्वारा भारतीय किसान संघ के तत्वावधान में खलघाट टोल प्लाजा पर धरना प्रदर्शन कर अपनी मांगे जोरदार तरीके से रखी गई थी। जिस पर मध्यप्रदेश शासन ने त्वरित कार्यवाही की । इसी तारतम्य में संभागायुक्त रवि शर्मा ने धरने वाले ही दिन किसानों के प्रतिनिधि मंडल से समस्त समस्याओं पर गहन चर्चा कर उन्हें दूर करने के निर्देश संबंधित विभाग के अधिकारियों को दिए। इनके अलावा दो प्रमुख मुद्दे सीसीआई द्वारा समस्त किसानों का 3 ग्रेड में वर्गीकरण कर उनका कपास खरीदना एवं दूसरा प्रमुख मुद्दा ओमकारेश्वर नहर प्रोजेक्ट जो कि फेज 1 एवं फेज 2 जिसके अंतर्गत धरमपुरी, मनावर, कुक्षी तहसीलों के किसानों को रबी सीजन में गेहूं, चने इत्यादि फसलों के उत्पादन हेतु ओंकारेश्वर नहर के माध्यम से पानी की पर्याप्त व्यवस्था करने के लिए निर्देश पर आज शनिवार को फूडी होटल में एनवीडीए मनावर कार्यपालन यंत्री आर पी उईके, एसडीओ ईश्रम कन्नौजे, एसडीओ गोपाल सिंह चौहान, एनवीडीए धामनोद फेज 1 की ओर से एसडीओ विक्रम अवासिया, एसडीओ श्री विजय वास्केल, उपयंत्री के एस ठाकुर एवम डी आर मालवीया मौजूद रहे ।जबकि फेज 1 एवं फेज के अंतर्गत आने वाले किसान भी शामिल हुए। फेस 2 मनावर संभाग के तहत 119 गांव की 30000 हेक्टेयर जमीन आती है । जबकि फेज 1 धामनोद संभाग के अंतर्गत 150 गांव की 28000 हेक्टेयर जमीन है । धामनोद संभाग के अंतर्गत बड़वाह के शिष्य तालाब से धरमपुरी के नरगांवपूरा तक 68 किलोमीटर तक ओपन नहर है । जबकि नरगांवपूरा से कुक्षी के धूलसर तक 55 किलोमीटर अंडरग्राउंड सी सी पाइप में बनाई गई है। इस तरह दोनो ही फेज 1 और फेज 2 के किसान और शासन के अधिकारियों के बीच सार्थक सकारात्मक और परिणामपरक चर्चा संपन्न हुई। जिसमें तीनों पक्षों के बीच सुखद सकारात्मक सहमति बनी ।विशेष रुप से दोनों फेज के किसानों की 8 क्यूसेक पानी की मांग थी लेकिन अधिकारियों ने तकनीकी जानकारी देते हुए वर्तमान में 5 क्यूसेक पानी देने की सहमति दी जिस पर किसानों ने सहर्ष स्वीकृति दे दी। संभवत अगले वर्ष से किसानों की मांग अनुसार पानी भी मिल सकता है।भारतीय किसान संघ के प्रांतीय उपाध्यक्ष दयाराम पाटीदार ,दिनेश पटेल, प्रकाश सिंघाड़े, कमल चौहेल, बद्री बोरली सहित अनेकानेक किसान मौजूद रहे ।
चर्चा में शामिल हुए समस्त किसान भी काफी खुश दिखाई दिए ।


Post A Comment:

0 comments: