*झाबुआ~9 करोड़ किसानों को 18 हजार करोड़ रुपये हस्तांतरण*~~

*पीएम का किसानों से वर्चुअल संवाद...*~~

*6 राज्य के किसानों से सीधा संवाद...*~~

*देश के 9 करोड़ किसानों को मिलेगी सौगाद...*~~

*पहले की सरकारों की नीतियों की वजह से छोटा किसान बर्बाद हुआ*~~

*ब्युरो दशरथ सिंह कट्ठा झाबुआ...9685952025*~~


झाबुआ - नए कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की सीमाओं पर किसानों का प्रदर्शन जारी हैं लेकिन उसी बीच भूतपूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई जी की 25 दिसम्बर को जयंती के इस शुभ अवसपर पीएम मोदी ने
18 हजार करोड़ रुपये की नई क़िस्त का पीएम किसान प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि से 9 करोड़ किसान परिवारों के बैंक खातों में हस्तांतरण किया गया। कार्यक्रम के दौरान प्रधानमंत्री ने छह राज्यों के किसानों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए बातचीत भी की । किसान के साथ संवाद करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कुछ लोग ऐसा भ्रम फैला रहे हैं कि आपकी फसल का कोई कांट्रैक्ट करेगा तो जमीन भी चली जाएगी इतना झूठ बोल रहे हैं। ब्लाक स्तरीय यह कार्यक्रम जिले के मेघनगर के जनपद में प्रशासन की और से वीडियो कान्फ्रेंस हाल में रखा गया था जिसमे एसडीएम एन.एल.गर्ग,तहसीलदार शक्ति सिंग,जनपद सीईओ वीरेन्द्र रावत भाजपा जिला अध्यक्ष लक्ष्मण सिंह घोती की सानिध्य में सम्पन्न हुआ जिसमें सेकड़ो की तादात में किसान पहुँचे और पीएम मोदी का वर्चुअल संवाद और भाषण सुना आयोजित कार्यक्रम में भाजपा मंडल अध्यक्ष सचिन प्रजापत,राजू डामोर,मुकेश मेहता,प्रेमसिंह बसोड़,भूपेश भानपुरिया,नटवर बामनिया,बंटी सिसोदिया,वेदप्रकाश बसेर, युसूफ भारतीय, पंकज बड़ोला,फारुख शेरानी, बाबू मचार,राजमल पडियार, भाविक बरोड़,मनीष डामोर, अजय डामोर आदि कार्यकर्ता उपस्थित थे


*किसानों की खुशी में ही मेरी खुशी - प्रधानमंत्री मोदी*

देश को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा किसानों के जीवन मे खुशी हम सभी के जीवन में खुशी बढ़ा देती है । आज का दिवस तो बहुत ही पावन भी है। किसानों को आज जो सम्मान निधि मिली है,उसके साथ ही आज का दिन कई अवसरों का संगम बनकर भी आया है ।
पीएम मोदी ने आगे कहा मुझे आज इस बात का अफसोस है कि पश्चिम बंगाल के 70 लाख से अधिक किसान भाई-बहनों को इसका लाभ नहीं मिल पाया है। बंगाल के 23 लाख से अधिक किसान इस योजना का लाभ लेने के लिए ऑनलाइन आवेदन कर चुके हैं ! लेकिन राज्य सरकार ने वेरिफिकेशन की प्रक्रिया को इतने लंबे समय से रोक रखा है।
वही विपक्ष पर हमला करते हुए मोदी ने कहा स्वार्थ की राजनीति करने वालों को जनता बहुत बारीकी से देख रही है,जो दल पश्चिम बंगाल में किसानों के अहित पर कुछ नहीं बोलते वो दल यहां किसान के नाम पर दिल्ली के नागरिकों को परेशान करने में लगे हुए हैं । और देश की अर्थनीति को बर्बाद करने में लगे हुए हैं । जो लोग 30-30 साल तक बंगाल में राज करते थे एक ऐसी राजनीतिक विचारधारा को लेकर उन्होंने बंगाल को कहां से कहां लाकर खड़ा कर दिया है, ये सारा देश जानता है।
वही पीएम मोदी ने कहा कि केरल में आंदोलन करके वहां तो APMC चालू करवाओं..
पीएम मोदी अपने संबोधन के दौरान विपक्ष पर जमकर बरसे हैं। उन्होंने कहा मैं इन दलों से पूछता हूं कि यहां फोटो निकालने के कार्यक्रम करते हो, जरा केरल में आंदोलन करके वहां तो APMC चालू करवाओं । पंजाब के किसानों को गुमराह करने के लिए आपके पास समय है । केरल में यह व्यवस्था शुरू कराने के लिए आपके पास समय नहीं है । क्यों आप लोग दोगली नीति लेकर चल रहे हो। किसानों के नाम पर अपने झंडे लेकर जो खेल खेल रहे हैं, अब उनको सच सुनना पड़ेगा। ये वही लोग हैं जो वर्षों तक सत्ता में रहें । इनकी नीतियों की वजह से देश की कृषि और किसान का उतना विकास नहीं हो पाया जितना उसमें सामर्थ्य था  पहले की सरकारों की नीतियों की वजह से सबसे ज्यादा बर्बाद छोटा किसान हुआ ।


Share To:

Post A Comment: